लम्बे समय से अवरोधित जमीनों का समाधान कराकर एसडीएम त्रिभुवन प्रसाद ने नए निर्माण के लिए खोल दिए मार्ग

0
174

शिवशक्ति शर्मा की रिपोर्ट
बांसी, सिद्धार्थनगर

कुछ दिनों के लिए बांसी तहसील का कमान्ड पाए डुमरियागंज के उपजिलाधिकारी पहले ही दिन अपने तेवर मे नजर आए हैं। पहले दिन सरकारी जमीन को कूटरचित तरीक़े से भूमाफिया के खिलाफ एक्शन लेने के साथ वर्षों से अटकी सरयू नहर की फंसी बजरडीह माइनर का मार्ग समझा बुझाकर प्रशस्त किया है। प्राप्त सूचना मे तहसील बांसी अंतर्गत ग्राम मसीना में विद्युत उपकेंद्र के लिए भूमि चिन्हित कर ली गई है। जिससे आसपास के 20 से अधिक गांव को सुचारू रूप से बिजली मिल सकेगी। ग्राम सभा द्वारा प्रस्ताव करा कर जिलाधिकारी महोदय को प्रेषित कर दिया गया है। विद्युत विभाग का मंतव्य लेकर विद्युत उपकेन्द्र बनाने का मार्ग प्रशस्त हो गया है।

इसी क्रम मे बांसी चौकी डिडई ग्राम करसडा अंतर्गत लगभग 200 मीटर लोक निर्माण विभाग की सड़क की पटाई नहीं हो पा रही थी, जिसे किसान को समझा-बुझाकर समाधान करा दिया गया है। मौके पर सहायक अभियंता लोक निर्माण विभाग ,नायब तहसीलदार बांसी ,चौकी इंचार्ज लड़ाई उपस्थित थे।

तहसील बांसी अंतर्गत थाना डिडई बनाए जाने हेतु ग्राम डिड़ई में 0.443 हे0 भूमि पुनर्गृहीत की गई थी। इस भूमि का माननीय उच्च न्यायालय में हफीजुल्लाह द्वारा स्थगन प्राप्त कर लिया गया था, जिसे हफीजुल्लाह से वार्ता कर मामले का समाधान करा लिया गया है। हाफिजुल्लाह द्वारा भी थाना डिडई बनाए जाने का सहयोग देने के साथ में माननीय उच्च न्यायालय इलाहाबाद से रिट को वापस ले लिया, जिसके कारण थाना डिडई बनाए जाने का रास्ता पूर्णतया साफ हो गया है। ग्राम प्रधान डिडई द्वारा भी पूर्णतया सहयोग देने का आश्वासन दिया है। राजस्व विभाग के अनुसार मौके पर भूमि खाली है, किसी भी प्रकार का अवैध कब्जा नहीं है। इस प्रकार थाना डिडई बनाए जाने का रास्ता साफ हो गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here