हियुवा सुभाष गुप्ता करेंगे दुर्गा पूजा संचालन समिति की अध्यक्षता, श्रीराम जानकी मंदिर परिसर में दुर्गापूजा, फलाहार व शस्त्र पूजन कार्यक्रम को लेकर तय की गई रूपरेखा, शासन की गाइड लाइन के साथ मनाया जाएगा शारदीय नवरात्रि पर्व, समाजसेवी सहित अन्य पदाधिकारी रहे मौजूद

0
196

पर्दाफ़ाश न्यूज़ टीम
शोहरतगढ़, सिद्धार्थनगर

शोहरतगढ़ कस्बा स्थित श्रीराम जानकी मंदिर परिसर में शनिवार की शाम करीब 7 बजे आगामी दुर्गापूजा, फलाहार व शस्त्र पूजन कार्यक्रम को लेकर दूर्गा पूजा संचालन समिति की बैठक आहुत की गई। जिसमें बिगत वर्षों की भांति इस वर्ष भी हियुवा सुभाष गुप्ता को सर्वसम्मति से दूर्गा पूजा संचालन समिति का अध्यक्ष बनाया गया। बैठक में दूर्गा प्रतिमा व पांडाल की सुरक्षा व्यवस्था व आपात काल में कैसे समुचित सांधनो का प्रयोग कर घटना घटित होने से बचाया जाए, आदि बातों को लेकर चर्चा की गई।

बैठक को संबोधित करते हुए हियुवा देवीपाटन मंडल प्रभारी सुभाष गुप्ता ने कहा कि कोरोना काल में हम सभी लोगों को शरादीय नवरात्र पर्व मनाना है। कोरोना अभी पूरी तरह से खत्म नहीं हुआ है। शासन की गाइडलाइन के नियम निर्देश को मानते हुए दूर्गा पूजा पर्व मनाया जायेगा। प्रदेश में माननीय मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी की सरकार है। हमें ऐसा कोई काम नहीं करना है। जिससे शासन की छवि धूमिल हो। उन्होंने यह भी बताया कि मंदिर परिसर में ही फलाहार कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा व शस्त्र पूजन कार्यक्रम बिना जुलूस के ही सम्पन्न होगा।

मनोनीति सभासद रविन्द्र कुमार वर्मा ने कहा कि प्रत्येक वर्ष हम सभी मां दुर्गा की पूजा प्रतिष्ठा बडे ही भव्य रूप से करते आ रहे है लेकिन वर्तमान समय में दुर्गापूजा (दशहरा पर्व) कोरोना जैसे संकट काल से जूझ रहा है। इसलिए कोविड-19 संक्रमण के बीच खुद को व अपनो को बचाते हुए त्योहार मनाना है।

पूर्व दुर्गा पूजा संचालन समिति के अध्यक्ष रहे किशोरी लाल गुप्ता ने कहा कि वर्षों से दुर्गा पूजा पर्व मनाया जा रहा है। शोहरतगढ़ की दूर्गा पूजा पर्व हमेशा से उपलब्धियों का विषय बना रहा। लोगों की ऐसी मान्यता रही कि शोहरतगढ़ में अष्टमी और नवमी के दिन प्रसाद की कभी कमी नही हुई है। ऐसे में हम आप सभी को शोहरतगढ की शोहरतगढ बरकरार रखनी होगी।

उन्होंने यह भी कहा कि संचालन में नेतृत्वकर्ता की जिम्मेदारी बड़ी होती है। भीड़ में हर किसी को समझाना व रोकना कठिन होता है। इसलिए हम सब की नैतिक जिम्मेदारी बनतीं है कि मेला आदि में किसी प्रकार की अनियमितता ना होने पाये। इससे अपनी ही हानि होती है। शब्द उद्बोधन में ऐसे शब्दों का प्रयोग करना चाहिए कि जिससे किसी की भावनाओं को ठेस ना पहुंचे। शोहरतगढ़ का शास्त्रपूजन अपने आप में ऐतिहासिक होता है, जिसे शासन की गाइडलाइन के साथ मनाया जाये।

सरस्वती विद्या मंदिर के प्रधानाचार्य अवधेश कुमार श्रीवास्तव ने सभी का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि शोहरतगढ़ की परम्परा पुरानी है। विजय पर्व शांति का संदेश देता है। आसुरी शक्ति पर दैवीय शक्ति के विजय का पर्व है। उन्होंने विजय दशमी पर्व पर मर्यादित नारे लगाने की बात कही।

इस दौरान पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष बनवारी गुप्ता ने कहा कि समय अभाव के कारण के कारण कुछ मूर्तियां नही बैठेंगी, तो प्रशासन इसे फाइनल लिस्ट की सूची में न समझ ले इस पर विचार करने की आवश्यकता है। उन्होंने संचालन समिति अध्यक्ष हियुवा देवी पाटन मंडल प्रभारी सुवास गुप्ता के नेतृत्व की सराहना करते हुए कहा कि आपका अगुवाई में जो भी कार्यक्रम होता है। वह शानदार व भव्य तरीके से सम्पन्न होता है।

सुरक्षा की जिम्मेदारी लेते हुए इंसपेक्टर राम आशीष यादव ने कहा कि शोहरतगढ़ की शोहरत को बरकरार रखने के लिए आप सभी के सहयोग की अपेक्षा हैं। सामान्य नागरिक भी पुलिस हैं। वह जब हमारे साथ कंधे से कंधे मिलाकर चलती है तो कोई भी पर्व हो उसमें किसी प्रकार की अडचन नहीं आती है। इसके साथ उन्होंने यह भी कहा कि पर्व के दौरान अराजक तत्वों पर पैनी नजर बनी हुई है। त्यौहार में खलल डालने वाले को किसी भी हालत में बक्सा नहीं जायेगा।

और अंत में कार्यक्रम का संचालन करतें हुए हियुवा सुभाष गुप्ता ने कहा कि कस्बे कि साफ-सफाई के साथ साथ दुर्गा प्रतिमा विर्सजन होने वाले घाट की भी साफ सफाई कराई जायेगी। जिससे दूर्गा प्रतिमा विर्सजन में किसी प्रकार की समस्या ना हो।

इस दौरान सांसद प्रभारी सूर्यप्रकाश पाण्डेय, समाजसेवी सौरभ गुप्ता, एबीवीपी पूर्व प्रदेश सहमंत्री शिवशक्ति शर्मा, नगर प्रमुख धर्मजागरण विरेन्द्र गुप्ता, संजय कसौधन, प्रमोद पाण्डेय, दीनानाथ अग्रहरि, राजेश आर्या, विजय मद्धेशिया, मोहित तिवारी, पीपी पटवा, अध्यापक अपूर्व श्रीवास्तव, धर्मेन्द्र अग्रहरि, शिवरतन कन्नौजिया, पवन कुमार पटेल, अरविन्द अग्रहरि, महेश कसौधन,सभासद मनोज गुप्ता, अनूप कसौधन, मनोनीत सभासद कृष्ण कुमार अग्रवाल, प्रेम कुमार आर्य, दुर्गेश तिवारी, विष्णु प्रताप सिंह, कमलेश कुमार गुप्ता, छोटू निगम, सोनू निगम आदि लोग मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here