अपनी पुरानी रौनक पर लौट रहा शोहरतगढ़ क्षेत्र का साप्ताहिक महथा बाजार, 16 अप्रैल 1959 से लगवाया जा रहा है बाजार

0
1380

पंकज चौबे की रिपोर्ट
शोहरतगढ़, सिद्धार्थनगर

शोहरतगढ़ क्षेत्र में बृहस्पतिवार को लगने वाला महथा का साप्ताहिक बाजार धीरे धीरे अपनी रौनक की तरफ बढ़ रहा है। लॉक डाउन से ही यह बाजार पूरी बन्द हो गया था, जिसका सीधा असर रेवड़ी, ठेला व फुटपाथ पर दुकान लगाने वाले छोटे व्यापारियों पर हुआ। विदित हो कि इस बाजार में मवेशियों की भी खरीद फरोख्त होती है, जिसके लिए यह बाजार अक्सर चर्चा में रहता था।

यहाँ मीट व मछली मंडी, सब्जी, फार्च्यून की दुकान, किराना, मटका, चारपाई, खोमचा, चलेबी, मचिया आदि की भी दुकानें सजाई जाती है। बाजार व्यवस्थापक मोहम्मद वली अम्बर है उनके छोटे भाई मोहम्मद आसिम उर्फ नय्यर महथा गाँव के ग्राम प्रधान भी है । इनकी दादी सफ़िया खातून द्वारा दिनांक 16 अप्रैल 1959 से यह बाजार लगवाया जा रहा है। लॉक डाउन में इसकी रौनक खत्म हो गयी थी, जो धीरे धीरे बढ़ रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here