प्रदेश के मुखिया योगी आदित्यनाथ द्वारा मुम्बई के तर्ज पर फिल्म सिटी बनाये जाने पर अधिवक्ता आर.के. पाण्डेय ने व्यक्त की प्रतिक्रिया कहा फिल्म सिटी के साथ किसान व बेरोजगारों के उन्नति पर ध्यान दे योगी सरकार

0
170

पर्दाफ़ाश न्यूज़ टीम
नैनी, प्रयागराज

उत्तर प्रदेश राज्य में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा मुम्बई के तर्ज पर फिल्म सिटी बनाये जाने पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए समाजसेवी अधिवक्ता आर के पाण्डेय ने कहा कि सरकार को कलाकारों के साथ किसान, नौजवान, निर्धन, बेसहारा व बेरोजगारों के कल्याण हेतु कार्य करना चाहिए।

बता दें कि मुंबई फ़िल्म सिटी के तर्ज पर उत्तर प्रदेश की सरकार यूपी में फ़िल्म सिटी बनाने की कार्य योजना पर कार्य कर रही है। ऐसे समय में हाई कोर्ट इलाहाबाद के अधिवक्ता आर के पाण्डेय का कहना है कि सरकार को किसी एक वर्ग व जाति विशेष के बजाय प्रत्येक निर्धन, बेसहारा, किसान, नौजवान, बेरोजगार व जरूरतमंद के कल्याण हेतु कार्य करना चाहिए। उन्होंने यह भी कहा कि उत्तर प्रदेश किसानों का प्रदेश है जो कि पूरे देश को जीवन यापन हेतु खाद्यान्न उपलब्ध कराता है सरकारी नीतियों से किसान उपेक्षा का शिकार होने के बाद भी हमारा प्रदेश दुग्ध, फल व अनाज उत्पादन में प्रथम स्थान पर है। इतना ही नहीं राज्य के राजस्व में भी कृषि क्षेत्र का सबसे अधिक योगदान है। किन्तु पूर्ववर्ती सरकारों की भांति वर्तमान की योगी सरकार का भी ध्यान कृषि क्षेत्र की तरफ नहीं है जिस तरह अखिलेश सरकार ने रोजगार न देकर बेरोजगारी भत्ता वितरित किया उसी तरह योगी सरकार कृषि उत्पाद का उचित दाम न देकर किसान सम्मान निधि के नाम पर कृषकों को गुमराह कर रही है उन्होंने कहा कि योगी सरकार फिल्म सिटी की जगह कृषि उन्नति पर ध्यान दे जिससे किसान खुशहाल हो नौजवानों को रोजगार मिले व प्रदेश के राजस्व में भी वृद्धि हो व उत्तर प्रदेश उत्तम प्रदेश बने। आज गरीब व निर्धन, बेसहारा बच्चों को भोजन वितरण करते हुए आर के पाण्डेय ने सवाल उठाया कि जातिगत वोट कार्ड खेलने वाली सरकारें व राजनैतिक दल इन जरूरतमंद बच्चों तक क्यों नहीं पहुंच पाती हैं?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here