पुलिस अधीक्षक राम अभिलाष त्रिपाठी ने शोहरतगढ़ सर्किल क्षेत्र के तीनों थानों (शोहरतगढ़, चिल्हिया व ढेबरूआ)की, की समीक्षा, थाना प्रभारियों को लम्बित पड़े माल-मुकदमाती का शीघ्र निस्तारण करने का दिया निर्देश

0
114

अरविन्द कुमार द्विवेदी की रिपोर्ट
शोहरतगढ़, सिद्धार्थनगर

शुक्रवार को पुलिस अधीक्षक राम अभिलाष त्रिपाठी ने शोहरतगढ़ सर्किल क्षेत्र के थाना- शोहरतगढ़, चिल्हिया व ढेबरूआ का अर्दली कक्ष का निरीक्षण किया तथा अपराध समीक्षा गोष्ठी कर सर्किल की कानून-व्यवस्था की समीक्षा की। इसके साथ ही उन्होंने विवेचकवार सभी मुकदमों की समीक्षा की तथा गुण-दोष के आधार पर यथाशीघ्र निस्तारण करने का निर्देश दिया गया।

पुलिस महानिदेशक/अपर पुलिस महानिदेशक के आदेश के क्रम में चलाये जा रहे अभियानों में रूचि लेकर कार्यवाही करने हेतु सभी थाना प्रभारियों को निर्देशित किया गया और लम्बित पड़े माल-मुकदमाती का शीघ्र निस्तारण करने का भी निर्देश दिया गया। आईटी अधिनियम के लंबित अभियोगों महिला अपराध भादवि0 का विवरण, धोखाधड़ी के लिए लंबित अभियोगों का विवरण, IGRS पोर्टल पर लंबित मामलों का विवरण, माननीय न्यायालय में दाखिल किये जाने हेतु शेष आरोप-पत्र /अंतिम रिपोर्ट का विवरण, उत्तर प्रदेश महामारी कोविड-19 (द्वितीय संशोधन) विनियमावली के उल्लंघन से संबंधित कार्यवाही का विवरण, सार्वजनिक स्थानों पर अवैध शराब/मदिरा-पान करने वाले व्यक्तियों के विरुद्ध कार्यवाही हेतु निर्देशित किया गया तथा वांछित अपराधियों के विरुद्ध कार्यवाही हेतु निर्देशित किया गया।

गिरफ्तारी हेतु शेष चल रहे वांछित अभियुक्तों की शीघ्र गिरफ्तारी हेतु निर्देशित किया गया। टाप-10 अभियुक्तों की शीघ्र गिरफ्तारी हेतु निर्देशित किया गया। चिन्हित गैंग के पंजीकरण एवं उनके विरुद्ध कार्यवाही के बारे में जानकारी ली गयी। भूमि-विवाद प्रकरण/थाना स्तर पर शिकायती प्रार्थना-पत्रों के निस्तारण हेतु निर्देशित किया गया व थाना दिवस के आयोजन में पुलिस महानिदेशक द्वारा जारी किये गये दिशा निर्देशों के अनुपालन में सोशल डिस्टेसिंग का पूर्ण रूप से पालन करने का निर्देश दिया गया। विवेचनाओं के निस्तारण, पुराने मामलों के निस्तारण, जनशिकायत द्वारा प्राप्त प्रार्थना-पत्रों के निस्तारण के सम्बन्ध में कड़े निर्देश दिये गये। शहर व ग्रामीण इलाकों में पैदल गश्त, साइबर अपराध के रोकथाम सम्बन्धी प्रचार-प्रसार, साक्ष्य के आधार पर विवेचनाओं का निस्तारण एवं अभियुक्तों के प्रति वैधानिक कार्यवाही, निरोधात्मक कार्यवाही में गुण्डा अधिनियम, गैंगेस्टर अधिनियम के अन्तर्गत अभियान चलाकर कार्यवाही किये जाने आदि बिन्दुओं पर महोदय द्वारा निर्देश दिया गया। इसी क्रम में थाना शोहरतगढ़ में उपस्थित चौकीदारों से मिलकर उनसे अपने क्षेत्र के बारे में जानकारी हासिल किया तथा चौकीदारों को निर्देश दिया गया कि जब भी ड्यूटी पर आये तो अपने गांव के संबंध में सूचना थाना पर एक रजिस्टर में अंकित करवाये। सभी थानाध्यक्षों को इस संबंध में एक रजिस्टर रखने हेतु आदेशित किया गया जिसमें चौकीदारों द्वारा दी गयी सूचनाओं को अंकित किया जाय। चौकीदारों से अन्य व्यक्तिगत समस्याओं के बारे में भी पूछा गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here