ट्विंकल बेटी मैं बहुत शर्मिंदा हूं…..

0
590

पर्दाफ़ाश न्यूज़ टीम
लखनऊ

मेरा बस चले तो तेरे कातिल को बीच चौराहे पर खड़ा करके तड़पा तड़पा कर मारू हमारे भारत का कानून ही बेकार है । मात्र कहने के नाम का कानून है। कर्ता धरता कुछ नहीं। अगर एक भी बलात्कारी को बीच चौराहे पर खड़ा करके सजा दे दी जाए, उसे इतनी बुरी मौत मारा जाए कि दुनिया में एक मिसाल कायम हो ।ताकि कोई इतना गंदा काम करना तो दूर सोचने मात्र से उसकी रूह कांप उठे ।
अलीगढ़ की 3 साल की बेटी ट्विंकल का दरिंदों ने पहले बलात्कार किया फिर हाथ पैर काटे आंखें निकाली उसे जलाने की कोशिश की अधजली लाश को कूड़े के ढेर में फेंक दिया कुत्ते बिल्ली पशु पक्षी नोच नोच कर खाते रहे।
कुछ मत बोलो सिर्फ नारा लगाओ
बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ, आदि बातों को लेकर सोसल मीडिया पर लोगो का विरोध प्रदर्शन जारी है। ऐसे लोगो को फाँसी की सजा कम है। लोग यही कह रहे है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here