शिवपति इण्टर कालेज में मनाई गई भगवान श्री परशुराम जी की जयंती

0
889

अजीज अहमद की रिपोर्ट
शोहरतगढ़, सिद्धार्थनगर


फोटो-शिवपति इण्टर कालेज में भगवान श्री परशुराम जी की जयंती मनाते लोग

शिवपति इण्टर कालेज में अक्षय तृतीया के अवसर पर भगवान श्री परशुराम जयन्ती समारोह का आयोजन किया गया। समारोह को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि ब्राह्मण समाज संगठन के अगुवा साधुशरण त्रिपाठी ने कहा कि भगवान परशुराम जी शस्त्र व शास्त्र के ज्ञाता थे।वह अन्याय व अत्याचार के परम विरोधी थे।लोगों में यह गलत धारणा है कि वह किसी जाति विशेष के विरोधी थे।वह अन्याय व अत्याचार के विरोधी थे। उन्होंने कहा कि आज वक्त आ गया है कि हम सभी संगठित होन चाहिए। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पूर्व दर्जा प्राप्त राज्यमंत्री नर्वदेश्वर शुक्ल ने कहा कि केवल भगवान परशुराम के चित्र पर माल्यार्पण करने से जयन्ती मनाने का लक्ष्य पूरा नहीं होगा। इसका लक्ष्य तब पूरा होगा जब हम सभी अपने समाज के अमीर-गरीब को संगठित कर समाज का विकास करें। अंत में शिवपति इण्टर कालेज के प्रधानाचार्य नलिनीकांत मणि त्रिपाठी ने आये सभी अतिथियों का आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम का संचालन ओलम्पिक संघ के जिलाध्यक्ष लालता प्रसाद चतुर्वेदी ने किया। कार्यक्रम को कथा वाचक संतोष महाराज, पूर्व चेयरमैन बढ़नी रामनरेश उपाध्याय, पूर्व विधानसभा प्रत्याशी मुरलीधर मिश्र, प्रधान संघ के जिलाध्यक्ष पवन मिश्र, राधारमण त्रिपाठी, त्रिलोकीनाथ पाण्डेय, मुरलीधर उपाध्याय, गंगा मिश्र, देवेन्द्रमणि त्रिपाठी आदि ने भी संबोधित किया। इस मौके पर राकेश पाण्डेय, रामचन्द्र शुक्ल, मोनू मिश्र, उदय प्रताप मिश्र, मुरलीधर पाठक, शैलेंद्र पाण्डेय, दलसिंगार दूबे, अशोक त्रिपाठी, व्यास पाण्डेय आदि लोग मौजूद थे।