तूफान पीड़ितों की मदद में फिर निकले- पतविंदर सिंह

0
439

आर के पाण्डेय की रिपोर्ट

उड़ीसा के पुरी तट एवं पश्चिम बंगाल .आंध्र प्रदेश. तमिलनाडु सहित अनेक प्रदेशों में शुक्रवार को प्रातः काल पहुंचे ‘फानी’ से भयंकर तबाही हुई है बड़ी संख्या में पेड़ उखड़ गए और झोपड़िया काफी तबाह हो गई हैं उड़ीसा राज्य के 17 जिले’ फानी ‘के जद में हैं ग्लोबल वार्मिंग के कारण ही यह विनाशकारी खतरा उत्पन्न हुआ है और भविष्य में भी ऐसी स्थितियों का सामना करना पड़ सकता है जलवायु परिवर्तन के कारण तूफानों की आकृति बढ़ रही है केंद्र और राज्य सरकार का दायित्व है कि वह राहत और बचाव कार्य के बाद ‘फानी ‘ से हुई क्षतिग्रस्त पीड़ितों की आर्थिक सहायता उनके पुनर्वास के लिए उचित कदम उठाएं l
समाजसेवी सरदार पतविंदर सिंह ने स्थानीय चक्रवर्ती तूफान के कारण चुनावी रैलियां रद्द हुई हैं आयोजकों से आग्रह किया है की रैली में खर्च होने वाले रुपए (प्रधानमंत्री राहत कोष )में भेजेंl समाजसेवी सरदार पतविंदर सिंह ने चक्रवर्ती तूफान से हुई तबाही से प्रभावित लोगों की मदद हेतु साइकिल में बोर्ड लगाकर स्लोगन लिखकर लोक कल्याण की भलाई लिखकर जनपद के विभिन्न गांव में घूमते हुए (प्रधानमंत्री सहायता कोष )में हर संभव सहयोग भेजने की अपील कर रहे हैं l
समाजसेवी पतविंदर सिंह सिंह ने कहा कि जाति. धर्म. राज्य. राजनीतिक तथा दलगत भावना से ऊपर उठकर इस महा विपत्ति में एकजुट होकर अभागे. अनाथो. घायलों और बेघरों को फिर से बसाने का मुख्य उद्देश हैl तूफान पीड़ितों की सहायता के लिए जनसंपर्क में हरमन सिंह. दलजीत कौर. रंजीत राय .अर्चना. रश्मि. कुलदीप अजीत आदि रहे।