महाराज अग्रेसन के सिद्धांतों पर आगे बढ़ता एनजीओ परमेंदु वेलफेयर सोसाइटी —लोकेश झा, पानीपत।

0
69

महाराजा अग्रसेन के नियमों को चरितार्थ कर रहा है परमेंदु वेलफेयर सोसायटी : लोकेश झा

पर्दाफाश न्यूज टीम।
पानीपत : एनजीओ परमेंदु वेलफेयर सोसायटी के हरियाणा मीडिया प्रभारी लोकेश झा ने प्रेस विज्ञप्ति के माध्यम से कहा कि पीडब्ल्यूएस परिवार अपने देवालय-शिक्षालय महाअभियान में जिस तरह 01ईंट 01रु. के जनसहयोग से देवालय-शिक्षालय के निर्माण का संकल्प लिया है वह सपना अब साकार होने जा रहा है। जिस तरह महाराजा अग्रसेन ने सर्व समाज का हित मानकर चलते थे तथा सच्चे समाजवाद की स्थापना हेतु उन्होंने नियम बनाया कि उनके नगर में बाहर से आकर बसने वाले प्रत्येक परिवार की सहायता के लिए नगर का प्रत्येक परिवार उसे एक तत्कालीन प्रचलन का एक सिक्का व एक ईंट देगा जिससे आसानी से नवागन्तुक परिवार स्वयं के लिए निवास स्थान व व्यापार का प्रबंध कर सके। वहां आने वाले नए परिवार को राज्य में बसने वाले परिवार सहायता के तौर पर एक रुपया और एक ईंट भेंट करते थे। इस तरह उस नव आगंतुक को लाखों रुपये और ईंटें अपने को स्थापित करने हेतु प्राप्त हो जाती थीं जिससे वह चिंता रहित हो अपना व्यापार शुरु कर लेता था। उसी सिद्धान्त पर आर के पाण्डेय एडवोकेट ने परमेंदु वेलफेयर सोसायटी (पीडब्ल्यूएस परिवार ) की स्थापना करके संस्था के माध्यम से देवालय-शिक्षालय की स्थापना के साथ-साथ श्रीराम जन्मभूमि अयोध्या परिक्षेत्र के गोरसरा शुक्ल (बस्ती) मे एक दर्शनीय स्थल का निर्माण शुरू करने जा रहे हैं तथा आज इस मुकाम पर पहुंच चुके हैं कि इस संगठन द्वारा देवालय-शिक्षालय निर्माण हेतु राष्ट्र भक्त हिन्दुस्तानी साथियों के सहयोग से श्रीराम जन्मभूमि अयोध्या परिक्षेत्र के गोरसरा शुक्ल (बस्ती) में आगामी पावन पर्व श्रीराम नवमी 21 अप्रैल 2021 को भूमिपूजन-शिलान्यास का कार्यक्रम सुनिश्चित है। इस कार्यक्रम में देश भर के सैकड़ों राष्ट्रभक्त समाजसेवी स्वयंसेवक कार्यकर्ताओं के पहुंचने की उम्मीद है। पत्रकार लोकेश झा ने कहा कि आर के पाण्डेय महाराजा अग्रसेन के आदर्शॊ को अपने जीवन में उतार कर चरितार्थ कर रहे हैं। यह महाअभियान एक महाक्रान्ति का रूप धारण कर लिया है जिसकी लौ मान्यवर आर के पाण्डेय एडवोकेट जी ने लगाया तथा वह महाक्रान्तिकारी दीपक आज पूरे देश भर में जगमगा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here