त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव 2020 की मतदाता सूची में परिवर्धन, संशोधन व विलोपन हेतु आई आपत्ति, शोहरतगढ़ एस०डी०एम० ने जाँच कर कार्यवाही करने का दिए आदेश

0
244

पर्दाफ़ाश न्यूज टीम
शोहरतगढ़, सिद्धार्थनगर

इन दिनों त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में प्रधानी चुनाव व अन्य पदों को लेकर हलचल तेज हो गयी है। और इसी हलचल को लेकर गुटबाजी भी देखने को मिल रही है। त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव 2020 में प्रयोग होने वाली मतदाता सूची प्रकाशन के बाद शोहरतगढ़, बढ़नी ब्लॉक अंतर्गत कुल 50 से अधिक ग्राम पंचायतों में परिवर्धन, संशोधन व विलोपन को लेकर आपत्ति बताई जा रही है। विदित हो कि ग्राम पंचायतों में परिवर्धन, संशोधन व विलोपन को लेकर निर्वाचन विभाग द्वारा 3 दिसम्बर तक आपत्ति मांगी गई थी, ताकि त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव को पारदर्शी व निष्पक्षता के कराया जा सके।

त्रिस्तरीय पंचायत सूची प्रथम प्रकाशन के बाद हमेशा ही सवालों के घेरे में रही है। जानकारों की माने तो बॉर्डर क्षेत्र के लगभग सभी गाँवों में दोहरी नागरिकता या दो जगह के निवासी बनकर रहते है । समय समय पर लाभ के अनुसार वे अपना अधिकार भी जनाते है। यही नही दोहरी नागरिकता के लोग भारत के साथ साथ पड़ोसी देश नेपाल के भी निवासी बन अपना काम साधते है।

ऐसे ही एक मामला शोहरतगढ़ ब्लॉक के पकड़ी का है जहां दर्जनों शिकायत कर्ताओं ने प्रार्थना पत्र के माध्यम से बीएलओ पर गम्भीर आरोप लगाए है। उन्होंने शिकायत में लिखा कि पकड़ी में बीएलओ द्वारा जानबूझकर करीब 200 मतदाताओं का नाम छोड़ दिया गया है तथा विवाहित महिला व मृतक व्यक्तियों का नाम मतदाता सूची से नही हटाया गया है। उन्होंने शेष बचे लोगों को मतदाता सूची में सम्मनित करने की मांग की है।

इसके साथ ही शोहरतगढ़ ब्लॉक के ग्राम पंचायत कर्मा में योगेन्द्र यादव आदि द्वारा छूटे हुए नाम को वोटर लिस्ट में शामिल करने की शिकायत बीएलओ से की गई है। साथ ही बढ़नी ब्लॉक के औंदहीकला निवासी अशोक कुमार अग्रहरि ने सम्बंधित बीएलओ व सुपरवाइजर की कार्यप्रणाली को लेकर गंभीर आरोप लगाए है। उन्होंने अपने शिकायती प्रार्थना पत्र में लिखा कि ग्राम पंचायत औंदहीकला में निर्वाचन नियमावली 2020 में 60 व्यक्तियों का नाम फर्जी तरीके से अंकित किया गया है, जो ग्राम पंचायत औदही के निवासी नही हैं। 16 विवाहित मतदाताओं के नाम सूची में दर्ज होने की शिकायत की गई है, जिनकी शादी अन्य विकास खण्डों में हो चुकी है। साथ ही 16 मृतक व्यक्तियों के नाम मतदाताओं सूची में दर्ज होने की भी पुष्टि की है, जिनका नाम मतदाता सूची से प्रकाशन के बाद अभी तक नहीं हटाने का आरोप लगाया है। साथ ही उन्होंने ग्राम पंचायत सचिव की मिली भगत से गलत और फर्जी तरीके से नाबालिक बच्चों का परिवार रजिस्टर भाग-एक की नकल में बढ़ाकर नकल बनाने का आरोप लगाया है।

इस दौरान शोहरतगढ़ उपजिलाधिकारी शिवमूर्ति सिंह ने बताया कि तहसील क्षेत्र के नौगढ़, बर्डपुर, शोहरतगढ़ व बढ़नी अन्तर्गत लगभग 50 गाँवो में आपत्ति आयी है। सभी आपत्ति की जाँच कराकर कार्यवाही की जाएगी, इसमे किसी प्रकार की कोताही क्षम्य नही होगी।