सपा नेता उग्रसेन सिंह के आवास पर नम आंखों से मनाई गई स्व० दिनेश सिंह की 11वीं पुण्यतिथि, सपा जिलाध्यक्ष लालजी यादव, पूर्व राज्यसभा सदस्य आलोक तिवारी सहित सपा के दिग्गज नेता रहे मौजूद

0
309

अजीज अहमद की रिपोर्ट
शोहरतगढ़, सिद्धार्थनगर

दुनियां से जाने वाले वापस लौट के नहीं आते, आती हैं तो सिर्फ उनकी यादें। उन्ही यादों को याद करते हुए चिल्हिया स्थित पूर्व विधायक प्रत्याशी उग्रसेन सिंह के आवास पर पूर्व मंत्री स्वर्गीय दिनेश सिंह की 11वीं पुण्यतिथि मनाई गई। इस अवसर पर पूर्व राज्यसभा सदस्य आलोक तिवारी सहित भारी संख्या में सपा कार्यकर्ताओं ने पूर्व मंत्री को श्रद्धांजलि अर्पित की।

श्रद्धांजलि सभा को संबोधित करते हुए पूर्व राज्यसभा सदस्य आलोक तिवारी ने कहा कि स्वर्गीय दिनेश सिंह कर्मठ और एक सच्चे जनसेवक थे। क्षेत्र की जनता उन्हें विकास पुरुष के नाम से भी जानती है। अपने कार्यकाल में क्षेत्र का चौमुखी विकास करते हुए उन्होंने अपनी एक अमिट छाप छोड़ी जिसे जनता कभी भी भुला नहीं पाएगी। वे सदा क्षेत्र के विकास और जनसमस्याओं को सुलझाने के लिए प्रयासरत रहते थे। आज उनकी पुण्यतिथि के अवसर पर कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों की भारी भीड़ इस बात का प्रमाण है कि वह कार्यकर्ताओं के भी चहेते रहे। उन्होंने यह भी कहा कि भाई स्वर्गीय दिनेश सिंह के मार्ग पर उनके सुपुत्र उग्रसेन प्रताप सिंह चल रहे हैं जो कार्यकर्ताओं और क्षेत्र की जनता का भरपूर सम्मान करते हैं यदि उन्हें मौका मिला तो अपने पिता स्वर्गीय दिनेश सिंह के सपने को साकार करते हुए क्षेत्र में विकास की गंगा बहाने का कार्य  करेंगे।

कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए पूर्व विधायक प्रत्याशी उग्रसेन प्रताप सिंह ने कहा कि कार्यकर्ताओं का सम्मान हमारे लिए सर्वोपरि है। कार्यकर्ता पार्टी के रीढ़ हैं जो तन्मयता के साथ कार्य करते हुए पार्टी को जीत दिलाने का कार्य करते हैं।

स्व० दिनेश सिंह के सम्बन्ध में एक स्थानीय कवि व समाजवादी विचारक चौधरी राधेश्याम सजल ने अपनी कविता के माध्यम से ठीक ही कहा है, ‘‘चला गया वो, जिसके जाते ही वह भी रोया जो कभी ‘उसे’ रोते देखकर, हँसा करते थे।‘‘ मतलब  स्व० दिनेश सिंह के बिरोधी भी उनमें जो विशेषता थी, उस विशेषता के कायल थें। 11.10.1951 को पैदा हुए दिनेश सिंह ने जमीनी नेता के रूप में जनता की सेवा तब तक की जब तक 14.10.2009 को अपने जीवन की अंतिम स्वाँस ली।

इस दौरान सपा जिलाध्यक्ष लालजी यादव, पूर्व विधायक श्रीमती लाल मुन्नी सिंह, पूर्व जिला उपाध्यक्ष वीरेंद्र तिवारी, हरिनारायण यादव, पूर्व महिला आयोग सदस्य इन्द्रासना त्रिपाठी, पूर्व विधायक विजय पासवान, पूर्व ब्लाक प्रमुख प्रतिनिधि प्रदीप पथरकट्ट, विजय प्रताप सिंह, रवि चौधरी, बलराम चौरसिया, रामू यादव, पप्पू सिंह, प्रधान इफ्तेखार अहमद, शकील अहमद, जफर आलम, बेचन शुक्ला, दुर्गेश अग्रहरि, विष्णु कुमार, अरुण चौधरी सहित भारी संख्या में सपाई मौजूद रहे।