हजारों भूखों को भोजन कराकर समाजसेवी ने मनाया पिता का जन्मदिन

0
251

पर्दाफ़ाश न्यूज़ टीम
प्रयागराज

समाजसेवी अविनाश मिश्र ने भूखमुक्त भारत संकल्प के साथ प्रयागराज के पावन संगम तट पर में भूखों को भरपेट भोजन कराकर अपने पिता का जन्मदिन मनाया।
जानकारी के अनुसार मां काली शक्ति साधना केन्द्र के तत्वावधान में आयोजित कार्यक्रम भूख मुक्त भारत का संकल्प, भईया जी का दाल भात 03-10-2020 दिन शनिवार को स्थान संगम नगरी कुम्भ नगरी तीर्थपति अक्षय वट की छांव में भगवान ऋषभदेव की तपस्थली प्रयागराज में सम्पन्न हुआ।
बता दें कि यह विशेष अवसर था जबकि भईया जी का दाल-भात परिवार के सहयोगी सदस्य अभिनाश मिश्रा ने अपने पूज्यनीय पिता बृजेश चन्द्र मिश्रा का अवतरण दिवस/जन्म दिन दाल भात कार्यक्रम में पत्नी उपमा मिश्रा, माता शकुंतला मिश्रा, लाडली बेटी कुमारी नीमिता मिश्रा, पुत्र चिरंजीव रोहित मिश्रा और पारिवारिक जन रिश्तेदार संग जन्मदिन मनाए।
इस अवसर पर दाल-भात परिवार के संस्थापक सदस्य प0 संकठा द्विवेदी ने बताया कि संगम क्षेत्र में लेटे हुए हनुमान मन्दिर के समीप नाविक संघ कार्यालय पर प्रतिदिन शाम 05 बजे से भूख मुक्त भारत का संकल्प भईया जी का दाल-भात परिवार के द्वारा गरीबों, बेसहारों, दिव्यांग जनों, कुष्ठ रोगियों और जरूरत मंद लोगों के लिए भोजन प्रसाद वितरण किया जा रहा है।
आज का भोजन प्रसाद वितरण अविनाश मिश्रा मीरापुर ने अपने पूज्यनीय पिता बृजेश चन्द्र मिश्रा के जन्मदिन के अवसर पर गरीबों और जरूरत मंद लोगों को भोजन प्रसाद वितरण किया।
कार्यक्रम का संचालन अन्नू सिंह भईया, वरिष्ठ अधिवक्ता समाजसेवी श्री देवानंद त्रिपाठी, अतुल मिश्रा गुड्डू मिश्रा, इं0 रंजीत कुमार, प0 संकठा द्विवेदी ने किया जबकि विशिष्ठ अतिथि रही अधिवक्ता कमला सिंह पत्नी विजय शंकर सिंह म्योराबाद प्रयागराज। इस मौके पर दाल भात परिवार अभिनाश मिश्रा जी और उनके परिवार के लिए आशुतोष अवघड दानी महाकाल प्रभु शिव जी और जगत जननी जगत कल्याणी करुणामई माता पार्वती जी से प्रार्थना करता है कि आप आपका परिवार मित्र रिश्तेदार सदा सर्वदा खुश प्रसन्न स्वस्थ यश कीर्ति धन धान्य से परिपूर्ण जीवन व्यतीत करें।
आज के भोजन प्रसाद वितरण में दाल भात परिवार की तरफ से सन्त शंकर गिरी नागा बाबा, अतुल मिश्रा गुड्डू मिश्रा, नलिन शुक्ला, मुन्ना सिंह, जयकेश सिंह परिहार, रवी मिश्रा, भोले मिश्रा, आर के पाण्डेय अधिवक्ता सहित अन्य सहयोगी सदस्य उपस्थित रहे।
इस अवसर पर दाल-भात परिवार ने सक्षम लोगों से अपील की है कि वे भी इस पुनीत कार्य भूखी मानवता की सेवा में सहयोगी बनकर एक मुट्ठी अनाज से लेकर जो भी श्रद्धा से सम्भव हो सके दान कर महान पुण्य के भागीदार बनें।