जिला विद्यालय निरीक्षक (DIOS) व उपजिलाधिकारी (SDM) पर भारी रमन गुप्ता, बेखौफ चला रहा अवैध कोचिंग, मानक व मान्यता विहीन कोचिंग पर शासन-प्रशासन बना धृतराष्ट्र

0
245

पर्दाफाश न्यूज़ टीम
कौंधियारा, प्रयागराज

‘सैंया भये कोतवाल तो डर काहे का’ की कहावत चरितार्थ करके रमन गुप्ता व आशुतोष मिश्र पूरे लॉक डाउन में भी बेखौफ अवैध कोचिंग सेंटर चलाते रहे हालांकि तीसरी बार रिपोर्टर्स द्वारा पकड़े जाने पर वह अन्य कुछ चहेते पत्रकारों संग आज के रिपोर्टर्स को धमकाने पर उतारू हो गये। बता दें कि कोरोना संकट काल के लॉक डाउन में शासन द्वारा सभी कोचिंग व शिक्षण संस्थान भी बंद कर दिए गए हैं परन्तु प्रयागराज के करछना तहसील अंतर्गत कौंधियारा थाना के राम का पूरा व शोभऊ का पूरा में रमन गुप्ता पुत्र अवधराज गुप्ता तथा आशुतोष मिश्र पुत्र सन्तोष मिश्र द्वारा बिना मान्यता व मानक विहीन अवैध कोचिंग सेंटर का संचालन अनवरत किया जा रहा है जिसे आज पत्रकारों ने एक महीने में तीसरी बार पकड़ा है।

कोचिंग संचालक में अपने कुछ चहेते पत्रकारों के शह पर आज के रिपोर्टर्स को अंजाम भुगतने की धमकी भी दिया है। फिलहाल स्थानीय लोगों ने गोपनीयता के शर्त पर बताया कि इस कोचिंग संचालक को डीआईओएस का वरदहस्त प्राप्त है। उधर पूरे प्रकरण की पूरी जानकारी एसडीएम करछना आकांक्षा राणा व एसओ कौंधियारा को भी है। परंतु बड़ा सवाल यह है कि क्या यह कोचिंग संचालक रमन गुप्ता व आशुतोष मिश्र पूरे शासन व प्रशासन पर इतना ज्यादा भारी पड़ रहा है कि स्थानीय प्रशासन के साथ राज्य व केंद्र सरकार इस अवैध कोचिंग के आगे बौने व नतमस्तक हो गए हैं?