गरीब व असहायों के मसीहा बने तहसीलदार राजेश कुमार अग्रवाल, भूमाफियाओं से बचाई 8 बीघा जमीन, भूमाफिया बुजुर्ग को बहला-फुसलाकर बेचवाना चाहते थे उसकी जमीन, तहसीलदार की दखल-अंदाजी से मचा हड़कम्प, मौका देख फरार हुए भूमाफिया

0
239

● शोहरतगढ़ तहसील क्षेत्र में सक्रिय है भूमाफिया, असहायों के जमीन की खरीद-फरोख्त पर एक्टिव हो जाते है भूमाफिया

● शोहरतगढ़ तहसीलदार राजेश कुमार की सक्रियता के चलते मौके से फरार हुए भूमाफियाओं

पर्दाफाश न्यूज़ टीम
शोहरतगढ़, सिद्धार्थनगर

गुरुवार को फिर तहसीलदार राजेश कुमार अग्रवाल ने एक अनूठे व उत्कृष्ट कार्य की बदौलत बुजुर्ग की 8 बीघा जमीन (संपत्ति) को बचा लिया। घटना स्थल से मिली जानकारी के मुताबिक तहसील परिसर में हंगामा देख क्षेत्र में जाते समय तहसीलदार राजेश कुमार अग्रवाल ने अपनी वाहन रोक दी।

जानकारी के मुताबिक तहसील परिसर में बुजुर्ग किसान हरिद्वार पुत्र स्व०भदई से उसकी नातिन लक्ष्मी जो 5-6 बच्चो के साथ बाबा से किसी बात को लेकर फरियाद कर रही थी। उक्त की सन्दर्भ में तहसीलदार राजेश कुमार अग्रवाल ने बताया कि हंगामा देख जब मैं बुजुर्ग किसान के पास आया तब पता चला कि बुजुर्ग किसान हरिद्वार पुत्र भदई निवासी तालकुंडा के न तो बीबी बच्चे है और न ही सगा भाई ही। साथ ही यह भी पता चला कि बुजुर्ग किसान की 8 बीघा जमीन चरिगवा गाव के भूमाफिया खलील बहलाफुसला कर रजिस्ट्री कराना चाहता है। जिसकी पूरी तैयारी स्टाम्प पेपर आदि के साथ थी। मौके पर उसके परिवार की नाती लक्ष्मी अपने 5-6 छोटे बच्चों को लेकर रो रही थी, कि ऐसा करने पर उन सबो की जिंदगी बेकार हो जाएगी। तहसीलदार राजेश कुमार अग्रवाल के रुख को देखते हुए भूमाफिया खलील व उसकी गवाही करने वाले दलाल साथी व तहसील के कुछ मुंशी आदि मौके से फरार हो गए।

तहसीलदार राजेश कुमार अग्रवाल ने उन सबो को अपने चेम्बर में ले जाकर पानी पिलाई और उनकी पूरी कहानी को सुना। उन्होंने यह भी कहा कि आप अपनी बहू और बच्चों के साथ अन्याय क्यो कर रहे हो? नातिन बहू को भी समझाया कि आपको बुजुर्ग की सेवा करनी चाहिए, इस पर अपनी गलती मानते हुए वह पैर पकड़ कर रोने लगी, कही अब जिंदगी पर सेवा करूंगी। दोनों लोग ही फूटफूटकर रोने लगे। मामला जब शांत हुआ तब बृद्ध किसान व उसकी नातिन बहू लक्ष्मी व उसके बच्चे अपने घर को चले गए।

मौके पर उपस्थित सांसद प्रतिनिधि नर्वदेश्वर मणि एवं बृद्ध का नाती मदन गोपाल यादव ने कहा तहसीलदार राजेश अग्रवाल, तहसीलदार के रूप में मसीहा है। विदित हो कि बीते दिनों तहसीलदार राजेश कुमार अग्रवाल की सक्रियता के चलते एक नौयुवक कि जान बचाई थी, जिसको लेकर गाँव के लोग तहसीलदार का सम्मान करने की तैयारी में है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here