अधिवक्ता आर के पाण्डेय ने पत्रकारों के हित का उठाया मुद्दा, कहा पत्रकारों का उत्पीड़न हो बन्द व मीडिया की स्पष्ट गाइड लाइन तय करे सरकार, मान्यता के बावजूद प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक व वेब पोर्टल के पत्रकारों पर सवाल है अनुचित, सभी पत्रकारों को मिले निःशुल्क यात्रा, चिकित्सा व सुरक्षा

0
39

पर्दाफाश न्यूज़ टीम
नैनी, प्रयागराजआ

जब सरकार व विभाग द्वारा तय मानकों पर पंजीकरण व मान्यता के बाद ही मीडिया अपने पत्रकारों का आई कार्ड जारी करता है तो आये दिन फर्जी पत्रकारिता के नाम पर सभी पत्रकारों पर सवाल उठाकर उनका उत्पीड़न बन्द होना चाहिए एवं सरकार को भी मीडिया हेतु स्पष्ट गाइड लाइन बनानी चाहिए। उपरोक्त बातें आज मिडिया से वार्ता में समाजसेवी अधिवक्ता आर के पाण्डेय ने कहीं। उनके अनुसार जब स्वयं सरकार व विभाग तय मानकों को पूरा करने वाले प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक व वेब पोर्टल को मान्यता देते हैं तो उनके आई कार्ड धारक पत्रकार फर्जी कैसे हो सकते हैं। आर के पाण्डेय के अनुसार फर्जी पत्रकारिता के नाम पर सभी पत्रकारों पर सवाल खड़ा करके पूरे मीडिया जगत का उत्पीड़न करना अनुचित है। सरकार पहले खुद मीडिया के लिए स्पष्ट गाइड लाइन तय करे व तदुपरांत सघन जांच कराए एवं यदि कोई फर्जी आई कार्ड धारक पत्रकार मिले तो उसके साथ उसका कार्ड जारी करने वाले के विरुद्ध भी विधिक कार्यवाही करे परन्तु अनावश्यक रूप से पत्रकारों पर दबाव बनाना बन्द होना चाहिए। आर के पाण्डेय एडवोकेट ने सरकार से मांग की है कि वह सभी प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक व वेब पोर्टल के पत्रकारों को कोरोना संकट काल में आर्थिक मदद के साथ निःशुल्क यात्रा, चिकित्सा व सुरक्षा प्रदान करे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here