क्रांति से स्वतन्त्रता प्राप्ति के बाद भ्रष्टाचार मुक्त भारत हेतु महाक्रान्ति की आवश्यकता

0
389

भ्रष्टाचारमुक्त, अपराधमुक्त व समानता के साथ विकसित भारत हेतु प्रत्येक नागरिक का योगदान आवश्यक। —आर के पाण्डेय एडवोकेट

पर्दाफाश न्यूज टीम प्रयागराज।
नैनी, प्रयागराज, 15 अगस्त 2020। भारत की स्वतंत्रता को अक्षुण्य बनाये रखने व भ्रष्टाचारमुक्त, अपराधमुक्त, विकसित राष्ट्र हेतु प्रत्येक नागरिक का योगदान आवश्यक है।
जानकारी के अनुसार एनजीओ परमेंदु वेलफेयर सोसाइटी के प्रबन्धक आर के पाण्डेय एडवोकेट ने आज राष्ट्र के नाम अपने संदेश में उपरोक्त बातें कहीं। बता दें कि एनजीओ परमेंदु के मुख्यालय पर आज कोरोना संकटकालीन लॉक डाउन के दिशा-निर्देशों व सोशल डिस्टेंसिंग का अनुपालन करते हुए 74वां स्वतन्त्रता दिवस बड़ी धूमधाम से मनाया गया व इस अवसर ध्वजारोहण करने के उपरांत वरिष्ठ समाजसेवी अधिवक्ता आर के पाण्डेय ने कहा कि हमे एक क्रांति आजादी पाने के लिए की थी परंतु अब अपनी स्वतंत्रता को सुरक्षित व संरक्षित रखने तथा भ्रष्टाचारमुक्त, भूखमुक्त, अपराधमुक्त, विकसित, आत्मनिर्भर व विश्वगुरु भारत निर्माण के लिए विधायिका, कार्यपालिका, न्यायपालिका, राजनैतिक दलों, सामाजिक संगठनों व प्रत्येक नागरिक को सामने आकर व्यक्तिगत हित के बजाय समाजहित, जनहित व राष्ट्रहित में अपना सक्रिय व सकारात्मक योगदान सुनिश्चित करना होगा जिससे रामराज्य का सपना साकार हो सके। इस अवसर पर अध्यक्ष मनीषा पाण्डेय, कोषाध्यक्ष जगदीश प्रसाद त्रिपाठी, रामू केशरवानी, अभिषेक गुप्त, बृजेश कुमार तिवारी, राजेश्वर प्रसाद सिंह यादव व अवधेश चौहान आदि संस्था के सभी पदाधिकारी व सदस्य उपस्थित रहे।