बढ़नी में तैनात फार्मशिस्ट दिनेश यादव प्रकरण में यादव सेना संगठन के लोगो ने जिलाधिकारी को सौंपा 4 सूत्रीय ज्ञापन, कहा 6 दिन बाद भी जाँच कमेटी नही कर पायी जाँच

0
1549

पर्दाफाश न्यूज़ टीम
सिद्धार्थनगर

मंगलवार को यादव सेना संगठन के लोगो ने बढ़नी में तैनात फार्मशिस्ट दिनेश यादव प्रकरण में जिलाधिकारी से मिल उन्हें 4 सूत्रीय ज्ञापन दिया गया। ज्ञापन में संगठन के लोगों ने कहा कि घटना में आरोपी प्रथमिक स्वस्थ केंद्र बढ़नी अधीक्षक श्रवण कुमार को मुख्य चिक्तिसा अधिकारी द्वारा अधीक्षक पद पर बरकरार रखना और अभी तक शासन के तरफ से कोई उचित कार्यवाही नही किया जाना और घटना स्थल से सीसीटीवी कैमरा उखड़ना एवम घटना के दूसरे दिन 25 तारीख को मुख्य चिक्तिसा अधिकारी द्वारा एक घण्टे उक्त घटनाओं में संलिप्त आरोपी श्रवण कुमार के साथ रात में मीटिंग करना, आखिर कर क्या दर्शाता है?

उक्त पूरे प्रकरण पर जांच कमेटी बैठ गई है, लेकिन यह वही जांच कमेटी है जिसने हाल ही में हुए घटना रामू विश्वकर्मा को जिला हास्पिटल में भर्ती, दवा, इलाज नही होने से तीन घंटो तक तड़प-तड़प कर हास्पिटल में ही मौत हो गया था, उपरोक्त इस प्रकरण में भी यही जांच कमेटी घटाओ में आरोपी मुख्य चिक्तिसा अधिकारी के जिम्मेदाराना कार्यो की जांच कर रही थी, लेकिन हुआ आज तक कुछ भी नही? अब दिनेश के मौत के मामले में भी यह कमेटी जांच कर रही है। आज 6 दिन हो गया लेकिन अभी तक सच्चाई का जरा सा भी पता नही लगा सके, और तो और प्रथमिक स्वस्थ केंद्र के अधीक्षक दिनेश के हत्याओं में आरोपी को पद पर बरकार रखा गया है, और जब तक अधीक्षक पद पर बरकरार रहेगा आरोपी तब तक सच्चाई का पता नही लगाया जा सकता क्योंकि स्वस्थ केंद्र में कार्यरत कर्मचारी और डॉक्टरों को धमकी और घुड़की अपने पदों पर बने रहने के वजह से निरंतर लोगो को दे रहा है, जिससे लोग सच्चाई बताने से डर रहे है, चल रहे जांच में मुख्य बिंदुओ द्वारा जिलाधिकारी महोदय का ध्यान आकर्षित करने के लिये ज्ञान सौप गया-

1- बढ़नी प्रथमिक स्वास्थ केंद्र के अधीक्षक उपरोक्त घटनाओं में आरोपी श्रवण कुमार को तत्काल पद से हटाया जाए।
2- मृतक के परिजनों द्वारा दिये गए तहरीर को दर्ज किया जाए।
3- मुख्य चिक्तिसा अधिकारी का स्थानांतर हो।
4- फार्मा सिस्ट दिनेश की मृत्यु कोरोना वायरस ड्यूटी के दौरान हुआ है। कोरोना योद्धा के तहत 50 लाख का बीमा की सहयोग राशि उनके पत्नी को दिया जाए एवम एक सरकारी नौकरी।इन्ही उक्त मांगो को ले कर आज ज्ञापन सौंपा गया है।

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि अगर जल्द मांगों को पूर्ण एवम उचित कार्यवाही नही होता है तो संगठन के लोग जनपद मुख्यालय पर वृहद आन्दोल के लिए बाध्य होंगे।