आखिर 25 वर्षीय युवक ने क्यो लगाई फाँसी, क्या पारिवारिक कलह के चलते शोहरतगढ़ थानाक्षेत्र के ग्राम पंचायत महमुदवा ग्रान्ट के टोला मुहमुनवा में साड़ी का फंदा बनाकर झूल गया युवक? कोरोना के चलते अप्रैल माह में आया था दिल्ली से घर

0
673

पर्दाफाश न्यूज़ टीम
शोहरतगढ़, सिद्धार्थनगर

शोहरतगढ़ थाना क्षेत्र के ग्राम पंचायत महमुदवा ग्रान्ट के टोला महमुदवा में रविवार की देर रात 25 वर्षीय शेषराम चौहान पुत्र पूर्णमासी साड़ी का फंदा बनाकर झूल गया।

घटना स्थल से मिली जानकारी के मुताबिक मृतक शेषराम चौहान 01 अप्रैल को दिल्ली से आया था। धीरे धीरे सब कुछ सामान्य होने के बावजूद घटना की रात्रि उसका अपनी पत्नी से रात्रि में कुछ कहा सुनी हुई। जानकारी यह भी है कि मृतक के माता-पिता पकड़ी के पास बुढ़ापार किसी मांगलिक कार्यक्रम में गए थे। घर पर पति पत्नी के अलावा कोई नही था। पारिवारिक विवाद के बाद वह मृतक युवक घर के दूसरे कमरे में सोने चला गया। सुबह युवक की पत्नी जब उसे जगाने के लिए पहुँची तो उसने देखा कि उसका दरवाजा बंद है। काफी देर बाद भी जब युवक का दरवाजा नहीं खुला तो हल्ला गुहार पर गाव के लोग आए और कमरे का तोड़ा तो सभी ने देखा कि वह फांसी के फंदे से झूल रहा था। आनन फानन में जब उसकी बॉडी को उतारी गई तो, वह मृत हो चुका था। जानकारी के मुताबिक युवक की शादी 3 साल पूर्व मिश्रौलिया थाना क्षेत्र के बड़ूइया में हुई थी और उसके कोई औलाद नही है। बहरहाल मृतक युवक का किसी से विवाद भी नहीं बताया जा रहा है लेकिन उसके साथ जो घटना घटी वह सभी को चौंकाने वाला था, की आखिर ऐसी कौन से बात रही कि उसे मौत को गले लगाना पड़ा।

मौके पर पहुंचे शोहरतगढ़ पुलिस प्रभारी निरीक्षक राम अशीष यादव ने परिजनों से पूछताछ की। उन्होंने लाश को पोस्टमार्टम के लिए जिला मुख्यालय भेज दिया उन्होंने बताया कि डेड बॉडी को पीएम के लिए भेज दिया गया है जैसी रिपोर्ट आएगी। रिपोर्ट के आधार पर कार्रवाई की जाएगी