क्षेत्र पंचायत सदस्यों की बैठक में सांसद जगदम्बिका पाल ने खण्ड विकास अधिकारी के कार्य शैली पर उठाया सवाल, कहा जोगिया में 2 क़िस्त, शोहरतगढ़ में एक भी नही, साथ ही कहा त्रिस्तरीय पंचायती राज व्यवस्था में ग्राम समाज है सबसे बुनियादी ईकाई

0
119

श्रवण कुमार पटवा / पंकज चौबे की रिपोर्ट
शोहरतगढ़, सिद्धार्थनगर

शुक्रवार को शोहरतगढ़ विकास खण्ड परिसर में आयोजित क्षेत्रपंचायत सदस्यों की बैठक में सांसद जगदम्बिका पाल ने खण्ड विकास अधिकारी के कार्य शैली पर सवाल उठाया, कहा जोगिया में 2 क़िस्त, मिली किन्तु शोहरतगढ़ में एक भी नही, जबकि 2 जगहों के खंड विकास अधिकारी आप ही है।

साथ ही कहा कि त्रिस्तरीय पंचायती राज व्यवस्था में अगर सबसे बुनियादी ईकाई कोई है तो ग्राम समाज की ही है। महत्मा गांधी जी के विचारो से प्रभावित होकर उन्होने कहा कि महात्मा गांधी जी कहा करते थे कि देश मे राजनीतिक आजादी मिल गयी है। लेकिन आर्थिक आजादी बाकी है। वे आर्थिक आजादी मानते थे कि देश में आर्थिक आजादी तभी आयेगी, जब गांव का विकास होगा। गांव स्वावलम्बी होगा। गांव आर्थिक रूप से सम्पन्न होगा तभी देश सम्पन्न होगा।

खण्ड विकास अधिकारी एजाज अहमद को सम्बोधित करते हुए कहा कि आप दो जगह पर कार्यरत है, आप जोगिया और शोहरतगढ़ में कार्य करने की शैली अलग है। जोगिया में 2 किस्तो में 1 करोड़ 75 लाख रूपये मिला, जबकि कि शोहरतगढ़ में एक भी किस्त नहीं मिला। जनता में ग्राम प्रधान के साथ साथ क्षेत्रपंचायत सदस्यों की भी जवाबदेही है। अगर क्षेत्र पंचायतों को काम नहीं मिलेगा तो वह कैसे जवाब देगा, उसके पास केवल 5 साल ही है। जनता क्षेत्र पंचायतों को कहेगी कि आप को 5 साल मिला था आपने क्या किया? आप कहीं भी रहेगें 60 साल तक कार्य करते रहेगे। विकास खण्ड क्षेत्र में आये दिन हो रहे जांच पर कहा कि प्रधानों को सजा देने का काम जनता करेगी।

क्षेत्र पंचायत सदस्यों से रूबरू होते हुए उन्होंने कहा कि क्षेत्र पंचायत की बैठक में भाग लेना मेरे लिए गर्व की बात है। मैं अक्सर ऐसी पंचायतों की बैठक का हिस्सा होता रहा। अपने पुराने कांग्रेसी साथी विकास पुरुष स्वर्गीय दिनेश सिंह के बारे में उन्होंने कहा कि जब हुए नौगढ़ के ब्लाक प्रमुख हुआ करते थे तब से लेकर आज 3-3 पीढ़ियों के ब्लॉक प्रमुख के बैठकों में मैं भाग लेता रहा। इसके साथ ही मनरेगा जाब कार्ड धारको, श्रम विभाग के पंजीकृत मजदूरों, राशन कार्ड धारको, कोरोना संकट काल में केन्द्र व प्रदेश सरकार द्वारा खाद्यान्न वितरण कार्यो की सराहना की।

प्रधान संघ जिला अध्यक्ष डॉ पवन मिश्रा ने कहा कि मनरेगा कार्यो में उच्च अधिकारियों के निर्देशन में जाँच कर प्रधानों का उत्पीड़न किया जा रहा है, जो कि उचित नहीं है। साथ ही कहा कि क्षेत्र पंचायत सदस्यों को भी मनरेगा के काम दिया जाय ताकि क्षेत्र पंचायतों द्वारा एक गाँव से दूसरे गाव को जोड़ने का काम किया जा सकें।

ब्लाक प्रमुख प्रतिनिधि उग्रसेन सिंह, ब्लॉक प्रमुख श्रीमती नीलिमा सिंह, प्रधान संघ ब्लाक अध्यक्ष वीरेन्द्र तिवारी, पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष एस पी अग्रवाल, जिला विकास अधिकारी शेष मणि सिंह खण्ड विकास अधिकारी एजाज अहमद, सहायक विकास अधिकारी पंचायत शकील अहमद ने भी कार्यक्रम को सम्बोधित किया। कार्यक्रम का संचालन रमेश चन्द्र जेई लघु सिंचाई ने किया।

इस दौरान सांसद प्रभारी सूर्य प्रकाश पाण्डेय, शिव शक्ति शर्मा, सचिव जगजीवन प्रसाद, राधेश्याम चैधरी, बृजेश कुमार, अजय भारतीय, कु० मिथिलेश जी, सन्त अखिलेश्वर, रामस्वरूप गुप्ता, मनोज प्रभाकर पटेल, मोईर्दुरहमान, जे ई अमरनाथ सहाय, सहित तहसील के पूर्ति निरीक्षक शोहरतगढ़ रामसेवक यादव, अधीक्षक डा0 पीके वर्मा व समस्त ग्राम प्रधान व क्षेत्र पंचायत सदस्य सहित जनपद व ब्लॉक स्तरीय कर्मचारी मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here