PWS व्यापारी सभा ने डीएम को सौंपा 10 सूत्रीय मांग पत्र

0
238

PWS व्यापार सभा ने डीएम प्रयागराज को दस सूत्रीय मांग मत्र सौंपकर व्यापारी हितों की आवाज उठाई

पर्दाफाश न्यूज टीम, प्रयागराज।
—व्यापारियों को सहयोग व सुरक्षा प्रदान करना सरकार का सबसे बड़ा योगदान। —व्यापारी सभा। प्रयागराज, 26 मई 2020। पीडब्ल्यूएस व्यापार सभा ने आज डीएम प्रयागराज को दस सूत्रीय मांग पत्र सौंपकर व्यापारी हितों की सुरक्षा की गुहार लगाई।
जानकारी के अनुसार पीडब्ल्यूएस व्यापार सभा के उ.प्र. प्रदेश अध्यक्ष अभिषेक गुप्ता, उपाध्यक्ष अनुराग जयसवाल, महामंत्री अवधेश चौहान व अंकित जयसवाल जिलाध्यक्ष प्रयागराज दिव्यांशु मिश्र, महामंत्री पवन गुप्ता आदि ने 10 सूत्रीय मांग पत्र का ज्ञापन आज डीएम प्रयागराज को सौंपते हुए व्यापारी हितों की सुरक्षा की मांग की है। इस ज्ञापन के अनुसार-1-रोस्टर प्रणाली व भीषण गर्मी को देखते हुए दुकानों के बंद होने का समय शाम 6..00 से परिवर्तन कर रात्रि 9.00 बजे तक किया जाय। 2-कोविड-19 में सरकार द्वारा निर्धारित गाइडलाइन का अनुपालन करने वाले दुकानदारों को बेवजह परेशान न किया जाय। 3-केंद्र और राज्य सरकार के द्वारा समस्त योजनाओं का लाभ एकल विंडो ब्यवस्था को जमीनी स्तर पर लागू किया जाये। 4-सरकार द्वारा ऋण, अनुदान, सहायता आदि को बैंक तथा कार्यालय में फाइल प्रकिया को त्वरित और आसान बनाया जाय। 5- GST प्रक्रिया को सरल और सुलभ बनाया जाय। 6-प्रत्येक टैक्स चुकाने ब्यापारियों को सम्मान के साथ बिशेष सुबिधाएँ प्रदान की जाये। 7-सरकार द्वारा शहर दुकान बन्दी को फॉलो कराते समय उनके सम्मान का विशेष ध्यान दिया जाये। 8- प्रयागराज पुलिस द्वारा उत्पीड़ित व्यापारियों की समस्याओं की सुनवाई जिलाधिकारी द्वारा स्वयं करते हुए 24 घण्टे में निस्तारित किया जाए। 9- 21 मार्च 2020 से अनवरत बन्द छोटे, फुटकर व फुटपाथिया व्यापारियों को आर्थिक पैकेज उपलब्ध कराया जाए। 10- सभी व्यापारियों को सुरक्षा उपलब्ध कराई जाए आदि की मांग की गई। इस अवसर पर प्रदेश अध्यक्ष अभिषेक गुप्ता ने कहा कि राष्ट्र के विकास में व्यापारियों का बड़ा योगदान है परन्तु आज कोरोना संकट काल में व्यापारी उपेक्षित व प्रताड़ित है जिनकी सुरक्षा करना सरकार व प्रशासन का महत्वपूर्ण दायित्व है। उन्होंने विश्वास व्यक्त किया कि सरकार उनके ज्ञापन पर संज्ञान लेकर व्यापारी हितों की सुरक्षा करेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here