ग्रामीणों के बार बार सिफारिश के बाद भी जिम्मेदारों ने साधी चुप्पी, कोरोना वायरस जैसी महामारी में भी बढ़नी ब्लॉक के दर्जनों गांवो मे नहीं हुआ साफ सफाई व दवा का छिड़काव

0
220

निजामुद्दीन सिद्दीकी की रिपोर्ट
बढ़नी, सिद्धार्थनगर

कोरोना वायरस के बढ़ते कहर से जहाँ पूरी दुनिया मे हाहाकार मचा हुआ है। देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा कोरोना वायरस के बढ़ते महामारी को देख कर देश मे तात्कालिक 2.0 लॉकडाउन 3 मई तक घोषित कर दिया, वही विकास बढ़नी के ग्राम पंचायत घरुआर, डड़उल, बैरिहवा, दुधवनिया खुर्द, जियाभारी, खजुरिया गर्वी, मलगहिया, मिश्रोलिया, जमधरा, ह्रदयनगर, हसुड़ी उर्फ़ गजेहड़ी, खुरहुरिया आदि दर्जनों, गाँवो मे अभी तक न दवा का छिड़काव हुआ है न ही साफ सफाई की कोई समुचित व्यवस्था है।

ग्रामीणों की माने तो कई बार उन लोगों ने ग्राम प्रधान व ग्राम पंचायत सचिव से साफ सफाई करवाने की अपील किया है। साथ ही यह मामला कई बार समाचार पत्रों मे प्रकाशित भी हो चुका लेकिन जिम्मेदार चुप्पी साधे हुए है। ग्राम पंचायत घरुआर, बैरिहवा, दुधवनिया खुर्द व जमधरा के ग्रामीणों का आरोप है की जब से देश मे लॉकडाउन घोषित हुआ है तब से अभी तक हमारे यहाँ सफाई कर्मी नज़र ही नहीं आया है और पहले भी नहीं आता था और न ही किसी तरह के दवा का छिड़काव हुआ है।

इस महामारी मे भी ग्राम प्रधान व ग्राम पंचायत सचिव मौज काटते हुए ग्रामीणों की जान को जोखिम मे डाल कर चुप्पी साधे हुए हैँ, वहीं गांव के सभी वर्गों उनका कहना है की अभी तक उन लोगो को इस महामारी से बचने के लिए उन्हें किसी तरह की सांत्वना व बचाव की जानकारी नहीं दी गयी है, ग्रामवासियों के साथ कोई घटना घटती है तो इसका जिम्मेदार कौन होगा ?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here