अधिकारियों कर्मचारियों की कुम्भकर्णी नींद से कोरोना संदिग्धों की चांदी, दिल्ली व मुम्बई से आकर गांवों में खुले आम घूमकर कोरोना को दे रहे दावत, ग्राम प्रधान के सूचना को भी नजर अंदाज करते है कर्मचारी, एनजीओ परमेंदु वेलफेयर सोसाइटी प्रबन्धक आर के पाण्डेय ने जनहित में कहा लापरवाही से एक भी कोरोना संक्रमित मिलने पर होगी कानूनी कार्यवाही

0
220

पर्दाफाश न्यूज़ टीम
बस्ती

जनपद के विक्रमजोत ब्लॉक में कोरोना को लेकर सम्बन्धित अधिकारियों व कर्मचारियों की बड़ी लापरवाही सामने आई है व इनकी कुम्भकर्णी नींद से बस्ती जनपद में कभी भी कोरोना वायरस की बड़ी घटना घट सकती है।
जानकारी के अनुसार बस्ती जनपद के विक्रमजोत ब्लॉक के गोरसरा शुक्ल गांव में अनूप कुमार पाण्डेय पुत्र राम उजागिर पाण्डेय व दो अन्य परिवार दिल्ली से तीन दिन पहले तथा जवाहर नगर रमघटिया में विश्राम पुत्र मंगल तेली एवं विश्राम की बुआ मुम्बई से आकर खुले आम पूरे गांव में घूम रहे है जिसमे अनूप कुमार पाण्डेय को जबरदस्त खांसी भी आ रही है। उपरोक्त लोगों ने स्थानीय प्रशासन को न तो सूचना दी व न ही कोई जांच कराया तथा स्वयं को आइसोलेट भी नही किया है जबकि सरकार एवं स्वास्थ्य विभाग की स्पष्ट गाइड लाइंस है कि ऐसे लोगों को आइसोलेट किया जाए व उनकी जांच हो। दो दिन तक कार्यवाही न होने पर कल ग्राम प्रधान अनीता देवी को सूचना दी गई जिस पर ग्राम प्रधान का कहना है कि उन्होंने सम्बन्धित अधिकारियों व कर्मचारियों को अवगत करा दिया है परंतु कोई सुनवाई नही हुई जबकि इस बावत सेक्रेटरी पति से बात हुई तो वह अपने घर पर मिले तथा उन्होंने सूचना से ही इनकार कर दिया। फोन करने पर एएनएम ऊषा व आशा बहू सुनीता वर्मा भी घर पर मिले व प्रकरण को देखने की बात कही जबकि डॉ0 कन्नौजिया, डॉ0 आसिफ व फारुख अहमद ने प्रकरण को नोट करके अग्रेषित करने की बात की है। यक्ष प्रश्न तो यह है कि विश्वव्यापी कोरोना वायरस की महामारी से बस्ती के यह कर्मचारी व अधिकारी इतनी बड़ी चूक कैसे कर सकते हैं? अगर उपरोक्त प्रकरण में कोई भी कोरोना से संक्रमित पाया गया तो पूरा बस्ती जनपद व देश तबाह हो सकता है। इस संदर्भ में एनजीओ परमेंदु वेलफेयर सोसाइटी के प्रबंधक आर के पाण्डेय एडवोकेट ने बताया कि उन्होंने स्वयं सक्षम उपरोक्त सभी अधिकारियों व कर्मचारियों से बात की है परंतु यदि इनमे से एक भी कोरोना संक्रमित पाया गया तो वह जनहित में सभी सम्बन्धित व जवाबदेह अधिकारियों एवं कर्मचारियों के विरुद्ध कानूनी कार्यवाही करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here