डी.एम. ऑफिस की गाड़ी है, क्या सब पर रौब जमाने के लिए फर्राटे भरते है विभाग के जिम्मेदार?

0
384

निजामुद्दीन सिद्दीकी रिपोर्ट
बलरामपुर

बलरामपुर जिलाधिकारी के कार्यालय मे काम करने वाले वर्कर भी अपने मोटरसाइकिल के नम्बर प्लेट UP47V5441 पर नंबर डलवाते समय अपना रौब का दबदबा बनाना नहीं भूलते हैँ, मोटरसाइकिल के आगे पीछे डी.एम.ऑफिस लिखवा कर अपना दबदबा बनाने मे पीछे नहीं रहते हैँ।

आरोप है कि रोड पर अगर उन्हें कोई जल्दी साइड ना दे तो अभद्र भाषा का इस्तेमाल करते हैं और हाँ अगर कोई पलट कर जवाब देता है तो धमकी देने मे भी नहीं चूकते हैँ, बात समझ मे नहीं आ रहा है की क्या आम आदमी का अधिकार नहीं है सड़क पर चलने के लिए या सिर्फ नौकरशाह ही सड़क पर चलेंगे इन्हें परमिशन कहाँ से मिलता है गाड़ी पर पावर लिखवाने व दिखाने और ये कार्यालय के कौन पदाधिकारी होते हैं? डी.एम.ऑफिस लिखवा कर चलने वाले, लिखवा कर चले कोई बात नहीं लेकिन कार्यालय का रोब आम नागरिक पर उतारने का अधिकार कहाँ से मिलता है? जैसे कई सवाल है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here