फैसले की तारीख को राष्ट्र निर्माण दिवस के रूप में मनाएं

0
447

फैसले की तारीख को “राष्ट्रीय निर्माण दिवस ” के रूप में मनाए- सरदार पतविंदर सिंह

पर्दाफाश न्यूज

प्रयागराज
समाजसेवी सरदार पतविंदर सिंह अपने युवा सहयोगियों के साथ सिविल लाइन के आसपास भ्रमण करते हुए राष्ट्रीय एकता और भाईचारे का संदेश देते रहेl समाजसेवी पतविंदर सिंह ने कहा कि सोशल मीडिया समेत सड़कों पर कुछ ऐसी हरकत ना करें जिससे तनाव की स्थिति पैदा हो हम हिंदुस्तानी हैं हमें अपने मुल्क के अमन-चैन के बारे में सोचना हैl किसी का दिल नहीं टूटना चाहिए देश की एकता और भाईचारे के लिए अमन व शांति का संदेश दे रहे हैंl
इस अवसर पर शोभिता श्रीवास्तव ने कहा कि कोशिश यह भी होनी चाहिए कि उच्चतम न्यायालय का जो भी फैसला हो उसे सभी स्वीकार करें यह कोशिश .सभी राजनीतिक .सामाजिक और साथ ही धार्मिक संगठनों को भी करनी चाहिए ताकि सामाजिक सद्भाव हर हाल में बनी रहेl शोभिता ने आगे कहा कि हम एकता और भाईचारे के पैरोकार हैं बेहतर यह होगा फैसला जल्द आए इस पर कोई विरोध नहीं होना चाहिएl
स्मृति श्रीवास्तव ने कहा कि सभी पक्षों को उसका सम्मान करने के लिए तैयार रहना चाहिए उचित यह होगा कि दोनों पक्ष इसके लिए माहौल बनाएं कि कोई भी फैसला आए उसे सभी स्वीकार करेंl
स्मृति ने आगे कहा कि जब फैसला आए तो शांति और सद्भाव बनाए रखें अदालत के फैसले का सम्मान करें भले ही वह कुछ भी होl
प्रभात मोहन श्रीवास्तव ने कहा कि किसी भी दिन फैसला सुना दिया जाएगा लिहाजा दोनों समुदाय के लोग गंगा- जमुना तहजीब को बनाए रखें और सम्मान के साथ फैसले को कबूल करें जो भी फैसला होगा ऐतिहासिक होगा l
प्रभात मोहन ने आगे कहा कि बेहतर यही होगा कि उम्मीद करें कि फैसला ऐसा होगा कि सभी पक्ष इसे स्वीकार करेंगे और हम इस साल से इस फैसले की तारीख को” राष्ट्र निर्माण दिवस” के रूप में मनाना शुरू करेंगे सद्भावना यात्रा में हरमन सिंह. दलजीत कौर .उमाशंकर. रमाकांत. विकास अरोरा .पुनीत. दिलीप ठाकुर .अजीत. सतीश चौधरी. आदि राष्ट्र भक्त उपस्थित रहे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here