अमोढ़ा कांड में एसओ छावनी की संदिग्ध स्थिति से हिंदुओं व हियुवा में भारी आक्रोश

0
720

पर्दाफाश न्यूज,
बस्ती

बस्ती जिले के छावनी थानांतर्गत परसों अमोढ़ा बवाल के बाद एसओ छावनी के संदिग्ध स्थिति से हिंदुओं में भारी आक्रोश व्याप्त है। उधर भारी दबाव के बाद एसओ ने नामजद तहरीर में अज्ञात के विरुद्ध एफआईआर दर्ज की है।
जानकारी के अनुसार परसों बस्ती जिला के थाना छावनी अंतर्गत अमोढ़ा में दुर्गा प्रतिमा विसर्जन के दौरान एक सम्प्रदाय विशेष के लगभग 200 उपद्रियों द्वारा दुर्गा प्रतिमा के ऊपर व सामने मांस का टुकड़ा फेंके जाने के बाद भारी बवाल हुआ था। इस संदर्भ में कल स्थानीय हियुवा के विजय कुमार पाण्डेय आदि द्वारा कुछ उपद्रियों को नामजद करके एक तहरीर एसओ छावनी को देकर विधिक कार्यवाही की मांग की गई थी परंतु कार्यवाही न होने पर उक्त प्रकरण ट्विटर पर यूपीपुलिस को व आज डीजीपी को भेजा गया था जिसमे प्रकरण अग्रेषित होने पर भारी दबाब के बाद एसओ छावनी ने नामजद के बजाय अज्ञात लोगों के विरुद्ध के एफआईआर दर्ज करके इतिश्री कर ली है। इस प्रकरण में बात करने पर एसओ छावनी ने स्पष्ट जानकारी न देकर केवल इतना कहा कि उचित कार्यवाही हो रही है जबकि सीओ हर्रैया ने बताया कि एफआईआर दर्ज हो गई है। इस मामले में हियुवा के विक्रमजोत ब्लॉक संयोजक विजय कुमार पाण्डेय का कहना है कि अभी तक एफआईआर की कॉपी उन्हें नही दी गई है व एसओ छावनी की भूमिका व स्थिति पूरी तरह संदिग्ध है तथा वह मात्र मामले में टाल मटोल कर रहे हैं। एसओ छावनी की उदासीनता से स्थानीय हिन्दुओ में भारी आक्रोश व्याप्त है। दबे स्वर में लोगों का कहना है कि नामजद को अज्ञात में एसओ द्वारा तब्दील करना किस भारी साजिश की तरफ इशारा कर रहा है। फिलहाल एसओ की करतूत से आहत स्थानीय हिंदू व हियुवा के कार्यकर्ताओं में व्याप्त आक्रोश है व जल्द आरोपियों की गिरफ्तारी न हुई तो पीड़ित वर्ग आगे बड़ा धरना व प्रदर्शन भी कर सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here