ग्राम प्रधान की मनमानी के बाद बरसात ने भी विधवा पर ढाया सितम

0
502

प्रयागराज ब्रेकिंग न्यूज

आर0के0 पाण्डेय की रिपोर्ट

ग्राम प्रधान की मनमानी के बाद बरसात ने विधवा पर ढाया सितम

  (करछना, प्रयागराज)

करछना, प्रयागराज, 28 सितम्बर 2019। प्रयागराज के करछना तहसील अंतर्गत बरगोझा निवासिनी एक विधवा जहां एक तरफ ग्राम प्रधान की मनमानी से आवास व शौचालय से महरूम रही वही उसके एकमात्र कच्चे कमरे को बरसात ने आज ढहाकर उसे भारी सितम का शिकार बना लिया है।
जानकारी के अनुसार प्रयागराज जनपद के करछना तहसील अंतर्गत ग्राम पंचायत डीहा के बरगोझा गांव की निवासिनी विधवा शैल तिवारी व उसका पुत्र शिवम एक मात्र कच्चे कमरे में वर्षों से निवास करते रहे हैं। शैल तिवारी का आरोप है कि एसईसीसी 2011 में नाम होने के बावजूद ग्राम प्रधान द्वारा रुपये बीस हजार की मांग पूरा न कर पाने के कारण उसे प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत एक अदद आवास व शौचालय नही मिल सका है जबकि इसी ग्राम पंचायत के तमाम अपात्रों को गलत तरीके से लाभ दिया गया है। इस समय प्रयागराज में बाढ़ के बाद बारिस का कहर जारी है जिसमे आज के भारी बरसात ने शैल तिवारी का कच्चा मकान ढहाकर उसे खुले में रहने को मजबूर कर दिया है। ताज्जुब है कि खबर लिखे जाने तक प्रशासन से उसे कोई भी फौरी राहत नही दी गई है। इस बावत ग्राम प्रधान से बात करने पर ग्राम प्रधान ने गोलमोल जवाब देते हुए खुद को मनरेगा मजदूरों के बजाय जेसीबी से तालाब के पानी को कटवाने में खुद को व्यस्त बताया जबकि जिला पंचायत सदस्य ने प्रकरण को देखने का भरोसा दिलाया तो उपजिलाधिकारी करछना को फोन करने पर उनके अर्दली ने बताया कि मैडम व्यस्त हैं फिलहाल अर्दली ने ही मामले में संज्ञान लेने का भरोसा दिलाया। दुखद पहलू यह है कि ग्राम प्रधान की मनमानी से एक विधवा व उसका नाबालिग बच्चा इस आफत की बारिस में भी खुले आसमान के नीचे भीगकर जीने को मजबूर हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here