DigiLocker के सभी दस्तावेज मान्य- सुनील कुमार सिंह (पुलिस क्षेत्राधिकारी)

0
787

पर्दाफ़ाश न्यूज़ टीम
शोहरतगढ़, सिद्धार्थनगर

अक्सर यह देखने को मिलता था की कभी-कभी दस्तावेजों की फोटोकॉपी रखने के बाद भी अधिकांश पुलिसवाले उसे संदिग्ध निगाहों से देखते थे और इसी के चलते लोगों का भारी भरकम चलाने भी हो जाता यूं तो सोशल मीडिया पर कहा जाता है कि यदि आपका डॉक्यूमेंट आवश्यक दस्तावेज जैसे ड्राइविंग लाइसेंस इंश्योरेंस आधार कार्ड पैन कार्ड आदि डिजी लॉकर एप्लीकेशन पर सुरक्षित है या अप्रूव है तो सही है।

कहीं-कहीं स्थिति भ्रम की पैदा होती थी इस बात की पुष्टि के लिए जब पुलिस क्षेत्राधिकारी सुनील कुमार सिंह से बात की गई तो उन्होंने कहा डिजिलॉकर पर दस्तावेज पूरी तरह से सुरक्षित हैं वाहन चेकिंग पर आप इसे दिखा सकते हैं यदि फिर भी किसी तरह की दिक्कत होती है तो मेरे सीयूजी नंबर 9454401347 पर प्रकरण की शिकायत कर सकते हैं।

सोसल मीडिया से ली गयी जानकारी पर आईये जानते है DigiLocker क्या है? कैसे बनाएं डिजीलॉकर अकाउंट और कहां-कहां कर सकेंगे इस्तेमाल?
हाल ही में केंद्रीय परिवहन विभाग ने ट्रैफिक पुलिस को निर्देश जारी करते हुए कहा कि वेरिफिकेशन के लिए DigiLocker के डाक्यूमेंट्स भी मान्य होंगे. हाल ही में केंद्रीय परिवहन विभाग ने ट्रैफिक पुलिस को निर्देश दिया कि वेरिफिकेशन के लिए DigiLocker के डाक्यूमेंट्स भी मान्य होंगे. इससे पहले भारतीय रेलवे ने भी वेरिफिकेशन के लिए DigiLocker के डाक्यूमेंट्स को मान्य माना था.

Digital Locker डिजिटल लॉकर या DigiLocker डिजीलॉकर एक तरह का वर्चुअल लॉकर है, जिसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जुलाई 2015 में लॉन्च किया था. डिजीलॉकर को डिजिटल इंडिया अभियान के तहत शुरू किया गया था. डिजीलॉकर खाता खोलने के लिए आपके पास आधार कार्ड का होना अनिवार्य है. डिजीलॉकर में देश के नागरिक पैन कार्ड, वोटर आईडी, पासपोर्ट आदि के साथ कोई भी सरकारी प्रमाण-पत्र स्टोर कर सकते हैं.

DigiLocker पर अकाउंट कैसे बनाएं?

सबसे पहले digilocker.gov.in या digitallocker.gov.in पर जाएं.
इसके बाद दाईं ओर Sign Up पर क्लिक करें.
नया पेज ओपन होगा जहां अपना मोबाइल नंबर दर्ज करें.
इसके बाद DigiLocker आपके द्वारा दर्ज मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी भेजेगा जिसे दर्ज करें.
इसके बाद अपना यूजरनेम और पासवर्ड सेट करें.
अब आप DigiLocker का इस्तेमाल कर सकते हैं.

DigiLocker वेबसाइट के मुताबिक, डिजीलॉकर के अभी तक 1 करोड़ 40 लाख रजिस्टर्ड यूजर हैं. DigiLocker पर अभी तक करीब 1 करोड़ 90 लाख डाक्यूमेंट्स अपलोड किए गए हैं और करीब 6.6 लाख डाक्यूमेंट्स eSigned भी हैं.

DigiLocker में डाक्यूमेंट्स कैसे अपलोड करें?

DigiLocker पर लॉग इन करें.
बाईं ओर Uploaded Documents पर जाएं और अपलोड पर क्लिक करें.
डॉक्यूमेंट के बारे में संक्षिप्त विवरण लिखें.
इसके बाद अपलोड बटन पर क्लिक करें.
DigiLocker पर आप अपनी 10वीं, 12 वीं, ग्रेजुएशन आदि के मार्कशीट के साथ ड्राइविंग लाइसेंस आदि डाक्यूमेंट्स स्टोर कर सकते हैं. ध्यान रहे आप अधिकतम 50MB की डाक्यूमेंट्स ही अपलोड कर सकते हैं और आप फोल्डर बना कर भी डाक्यूमेंट्स अपलोड कर सकते हैं.

हाल ही में केंद्रीय परिवहन विभाग ने ट्रैफिक पुलिस को निर्देश जारी करते हुए कहा कि वेरिफिकेशन के लिए DigiLocker के डाक्यूमेंट्स भी मान्य होंगे. इससे पहले भारतीय रेलवे ने भी वेरिफिकेशन के लिए DigiLocker के डाक्यूमेंट्स को मान्य माना था. आप ट्रैफिक पुलिस, रेल यात्रा के दौरान वेरिफिकेशन के वक्त DigiLocker के डाक्यूमेंट्स दिखा सकते हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here