राजभाषा पखवाड़ा समारोह का शुभारंभ एवं क्षेत्रीय राजभाषा कार्यान्‍वयन समिति की बैठक संपन्‍न

0
455

आर के पाण्डेय की रिपोर्ट
प्रयागराज
           
उत्‍तर मध्‍य रेलवे मुख्‍यालय में अपर महाप्रबंधक श्री अरुण मलिक की अध्‍यक्षता में राजभाषा पखवाड़ा समारोह का शुभारंभ एवं क्षेत्रीय राजभाषा कार्यान्‍वयन समिति की बैठक संपन्‍न हुई। बैठक को संबोधित करते हुए अपर महाप्रबंधक     श्री अरुण मलिक ने कहा कि हिंदी ने संपर्क भाषा के रूप में राष्‍ट्रीय मूल्‍यों और देश की भावनात्‍मक एकता को मजबूत करने में अहम योगदान दिया है। हिंदी आपसी मेलजोल और समन्‍वय से पल्‍लवित और विकसित हुई हैं। आज हिंदी का प्रयोग-ज्ञान विज्ञान और टेक्‍नालॉजी के क्षेत्र में बढ़ रहा है। वहीं राष्‍ट्र में एक नई चेतना के प्रसार के माध्‍यम की भूमिका निभा रही है और विश्‍वपटल पर इसमें मुखरित सशक्‍त और महत्‍वाकांक्षी भारत की पहचान को वैश्विक सम्‍मान मिला है। हिंदी के बढ़ते महत्‍व का ही परिचायक है कि आक्‍सफोर्ड इग्लिंश डिक्‍शनरी में हिंदी के आम बोलचाल के शब्‍दों सहित लगभग 900 शब्‍दों को शामिल किया गया है। श्री मलिक ने कहा कि सरकारी कार्यों में हो रहे डिजिटलीकरण और ई आफिस के क्रियान्‍वयन के मद्देनजर सभी कर्मचारियों को हिंदी साफ्टवेयरों और हिंदी कुंजीयन के प्रयोग में पूरी तरह दक्ष होना चाहिए। अपर महाप्रबंधक ने स्‍टेशनों पर हिंदी के प्रयोग के महत्‍व को रेखांकित करते हुए कहा कि स्‍टेशनों और ट्रेनों में विभिन्‍न क्षेत्रों, भाषाओं और संस्‍कृतियों के यात्री अपने विचारों का आदान-प्रदान हिंदी में ही करते हैं और वहाँ हिंदी का विशाल भावनात्‍मक विस्‍तार देखने को मिलता है, इसलिए स्‍टेशनों के परंपरागत और इलेक्‍ट्रानिक मदों में हिंदी अथवा द्विभाषी रूप का सरल और सही प्रयोग सुनिश्चित किया जाना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here