ओग्राम का त्योहार

0
415

शुआट्स में मनाया गया ओणम का त्यौहार

पर्दाफाश

प्रयागराज
सैम हिग्गिनबाॅटम कृषि, प्रौद्योगिकी एवं विज्ञान विश्वविद्यालय (शुआट्स) में ओनम त्योहार केरला के लगभग 220 से अधिक छात्र, छात्राओं ने मलयाली वेलफेयर एसोसिएशन के बैनर तले मिलकर बड़े उत्साह के साथ, धूमधाम से मनाया।
ओणम सम्पूर्णता से भरा हुआ त्योहार है जो केरल का एक राष्ट्रीय पर्व भी है। इसे खेतों में फसल के उपज के लिए विशेष तौर पर मनाया जाता है। ओणम नक्षत्र चिंगम माह में पड़ता है। यह त्यौहार राजा महाबली के स्वागत में प्रति वर्ष आयोजित किया जाता है, जो दस दिनों तक चलता है। दसवाँ दिन तिरूवोनम कहलाया जाता है। केरल में ऐसी मान्यता है कि इस त्योहार के प्रारंभ होने के साथ ही महाबली की कृपा सदैव केरल पर बनी रहेगी एवं राज्य में उन्नति होगी। इस त्यौहार में कई प्रतियोगिताएँ भी होती है, जैसे फूलों की रंगोली, तिरूवातिरा, ओणताप्पान, ओनम गीत, आदि। फूलों की रंगोली को ‘पूक्कलम्‘ कहा जाता है। विश्वविद्यालय परिसर में 11 सितम्बर के समारोह में एक खूबसूरत पूक्कलम् बनाया गया। यह पूक्कलम् विभिन्न प्रकार के ताज़ा फूलों से बनाया गया था। पूक्कलम के सामने अनुष्ठानिक दीपक और  पूक्कलम के बीच में ओणताप्पान सजाए गए। सभी कार्यक्रम प्रातः 10 बजे से प्रारंभ हुए।
मुख्य अतिथि निदेशक प्रशासन विनोद बी. लाल ने दीप प्रज्ज्वलन से कार्यक्रम का उद्घाटन किया एवं सभी छात्र-छात्राओं को ओनम त्योहार की बधाई दी। उन्होंने कहा कि शुआट्स सदैव छात्र-छात्राओं को इस प्रकार के महत्वपूर्ण त्योहार के आयोजन के लिए प्रोत्साहित करता है जो समाज में एकता व अखण्डता लाने का संदेश देते हैं।
विश्वविद्यालय के निदेशक प्रसार प्रो0 आरिफ ए. ब्राडवे, डीन सिस्टर मैरियन, निदेशक कैरियर प्लानिंग प्लेसमेन्ट डा. देवराज बाडुगू, डा. सुनीता बी. जाॅन, जनसम्पर्क अधिकारी डा. रमाकान्त दूबे, कुलानुशासक आ��

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here