इण्डोनेपाल बॉर्डर से प्रतिबंधित चिड़िया का शिकार करते दो नेपाली युवक धराये, एसएसबी व वन विभाग के अधिकारियों ने संयुक्त रूप से की कार्यवाही

0
835

श्रवण कुमार पटवा की रिपोर्ट
सिद्धार्थनगर

इन दिनों इण्डोनेपाल बॉर्डर पर एसएसबी टीम पूरी तरह से सक्रिय है, आये दिन कुछ न कुछ खुलासे होते रहते है। बीते रविवार को 43वीं वाहिनी एस एस बी खुनवा व वन विभाग नौगढ द्वारा प्रतिबंधित चिड़िया का शिकार करते 2 युवक पकड़ में आये है। एसएसबी निरीक्षक अमर लाल सोनकरिया ने बताया कि मुखबिर के सूचना के आधार पर सामूहिक ओपरेशन किया गया जिसमे दो नेपाली अभियुक्तों को भारत नेपाल सीमा बार्डर संख्या 556/53 के पास भारत की ओर आम के बागान मे घुरसेल चिडिया (मैना)को गुलेल द्वारा मारते हुए गिरफ्तार किया गया जिनके पास से 02 मृत घुरसेल चिडिया, 02 गुलेल, 23 संख्या में कांच कि गोलियां बरामद कि गई जिन पर भारतीय वन्य जीव अधिनियम 1972 कि धारा 9, 39 व 51 के उल्लंघन के अंतर्गत कार्यवाही कि गई ।

पकड़े गए व्यक्तियों का नाम का इंद्र बहादुर चौधरी पुत्र स्वर्गीय भिखु प्रसाद, उम्र – 32 वर्ष , ग्राम- बुड्डी, वार्ड न. – 04, बुद्ध भूमि नगरपालिका, पुलिस स्टेशन – गोरसिंगा
जिला- कपिलवसतु, नेपाल व दयाराम थारू पुत्र जंगाले थारू, उम्र – 37 वर्ष, ग्राम- बुड्डी, वार्ड न. – 04, बुद्ध भूमि नगरपालिका, पुलिस स्टेशन – गोरसिंगा जिला- कपिलवसतु, नेपाल है।

इस दौरान गिरफ्तार करने वाली टीम में वन विभाग नौगढ के वन उप निरीक्षक दिलीप कुमार, बीट प्रभारी राम प्यारे मोर्य, बीट प्रभारी स्वामी नाथ व 43वीं वाहिनी एस एस बी खुनवा के निरीक्षक अमर लाल सोंकरिया, उप निरीक्षक राकेश कुमार पटेल, मु.आ. मनोज कुमार बोरा आदि मौजूद रहे। उक्त की जानकारी देते हुए निरीक्षक अमरलाल सोनकरिया ने यह भी बताया कि इनको आगे की कार्यवाही के लिए वन विभाग नौगढ़ के द्वारा सिद्धार्थनगर न्यायालय में पेश किया जायेगा ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here