ज़िले की बिगड़ी क़ानून व्यवस्था को लेकर समाजवादी पार्टी ने ज़िलाधिकारी की अनुपस्थिती मे ए.सी.एम. को सौंपा ज्ञापन

0
564

आर के पाण्डेय की रिपोर्ट
प्रयागराज

समाजवादी पार्टी ने ज़िले की क़ानून व्यवस्था और हत्याओं और अपराधियों के बेखौफ हो कर आए दिन किसी न किसी की हत्या किये जाने पर योगी सरकार के विरुद्ध ज़िलाधिकारी आवास के बाहर प्रदर्शन करते हुए ज्ञापन सौंप कर बिगड़ी क़ानून व्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए उग्र आन्दोलन की चेतावनी दि।प्रदेश प्रवक्ता रिचा सिंह व महानगर अध्यक्ष सै० इफ्तेखार हुसैन के नेत्रित्व मे बड़ी संख्या मे जूटे सपा कार्यकर्ताओं ने ज़िलाधिकारी को बाहर निकालने और ज्ञापन लेने के लिए आवाज़ बुलन्द की।ज़िलाधिकारी के बाहर न आने पर कार्यकर्ता उन्के आवास के गेट पर सांकेतिक धरना देकर बैठ गए।कार्यकर्ताओं के उग्र रुप को देखते हुए मौक़े पर पुलिस भी पहोंच गई ।प्रदेश प्रवक्ता रिचा सिंह ने ज़िलाध्यक्ष कृष्णमूर्ति सिंह यादव व महानगर अध्यक्ष सै०इफ्तेखार हुसैन की उपस्थिति मे ए०सी०एम० को ज्ञापन सौंपते हुए यह चेतावनी दी की अगर क़ानून व्यवस्था जल्द न सुधरी और हत्याओं पर लगाम नहीं कसी गई तो समाजवादी पार्टी और उग्र आन्दोलन को विवश होगी। सौंपे गए ज्ञापन मे यह बात कही गई के विगत लोक सभा चूनाव के बाद से पिछले दो माह से प्रयागराज की क़ानून व्यवस्था एकदम से ध्वस्त हो गई है।लगभग हर रोज़ हत्याएँ,लूट आम बात हो गई है।अपराधियों के हौसले इतने बुलन्द हो गए हैं की उन पर पुलिस का कोई खौफ नही रहा।पुलिस प्रशासन अपराध नियन्त्रण मे पूर्णतया विफल हो गई है।पुलिस केवल मौजूदा सरकार के मंत्रीयों व नेताओं की आवभगत मे लिप्त है।प्रशासनिक अधिकारी एसी कमरों मे बैठ कर मज़े ले रहे हैं।18/8/2019 को जनपद प्रयागराज मे अलग अलग थानों 6 हत्याएँ कर दी गईं जिसमे थाना धूमनगंज के अन्तर्गत चौफटका के पास खुलेआम तीन व्यक्तियों की हत्या कर दी गई इसी तरहा अन्य घटनाएँ भी की गईं।अपराधियों पर पुलिस का खौफ न होने के कारण अपराधी खुलेआम घूम रहे हैं।16 अगस्त को भी जनपद न्यायालय मे बड़ी घटना होते होते बच गई।लगातार हो रही वारदात को लेकर जनपद प्रयागराज के आम लोगों मे भय व्याप्त है।महिलाएँ छात्राएँ घर से निकलने मे घबरा रहीं हैं वही उनके परिजन जब तक बच्चीयाँ अपने स्कूल कालेज या आफिस से अपने घर न पहुँच जाएँ चिन्तीत रहते है।जनता में शासन प्रशासन को लेकर ज़बरदस्त आक्रोष है।नेतद्वय ने चेतावनी दी के अगर अपराध नियन्त्रण को लेकर शासन प्रशासन गम्भीर न हुआ तो समाजवादी पार्टी धरना प्रदर्शन सही उग्र आन्दोलन को विवश हो जायगी जिसे रोकना प्रशासन के बस की बात न होगी।विरोध प्रदर्शन व ज्ञापन सौंपने वालों में समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता विनोद चन्द्र दूबे,कृष्णमूर्ति सिंह यादव,सै०इफ्तेखार हुसैन,दूधनाथ पटेल,महबूब उसमानी,सबीहा मोहानी,इन्दू यादव,ननकऊ यादव,विक्रम पटेल,काशान सिद्दीक़ी,अदील हमज़ा,मो०इमरान,पिन्टू यादव,मो०नदीम,सत्यवेन्द्र आज़ाद,आशीष पाल,किताब अली,सै०मो०अस्करी सहित अन्य लोग मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here