हिंदी साहित्यकार फणीश्वर नाथ रेणु पर आधारित प्रदर्शनी एवं हिंदी संगोष्ठी का आयोजन

0
471

आर के पाण्डेय की रिपोर्ट
प्रयागराज

रेल प्रशासन द्वारा बीते बुधवार को मंडल रेल प्रबंधक कार्यालय सभा कक्ष संकल्प में प्रख्यात हिंदी साहित्यकार फणीश्वर नाथ रेणु पर एक प्रदर्शनी एवं हिंदी संगोष्ठी का आयोजन किया गया

सर्वप्रथम वरिष्ठ राज भाषा अधिकारी श्री केशव त्रिपाठी नें सभी का स्वागत किया तत्पश्चात मंडल रेल प्रबंधक इलाहाबाद श्री अमिताभ एवं इलाहबाद विश्वविद्यालय के हिंदी विभाग के प्रो० राजेश गर्ग ने प्रख्यात हिंदी साहित्यकार फणीश्वर नाथ रेणु के चित्र पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्वलन के साथ कार्यक्रम का शुभारंभ किया | इसके उपरांत अपर मंडल रेल प्रबंधक श्री अनुराग अग्रवाल नें इलाहबाद विश्वविद्यालय के हिंदी विभाग के प्रो० राजेश गर्ग को पुष्प गुच्छ भेंट कर उनका स्वागत किया | तत्पश्चात उपस्थित सभी अधिकारियों नें फणीश्वर नाथ रेणु के जीवन के विभिन्न पहलुओं को दर्शाने वाली एक सुन्दर प्रदर्शनी का अवलोकन किया | अपने अध्यक्षीय भाषण में मंडल रेल प्रबंधक श्री अमिताभ ने कहा कि फणीश्वर नाथ रेणु जैसे महान रचनाकार के व्यक्तित्व और साहित्य के विविध पक्षों और सन्दर्भों को समसामयिक के सन्दर्भ में समझने और विश्लेषित करने में यह संगोष्ठी अत्यंत महत्वपूर्ण है | इस तरह की संगोष्ठियाँ जहाँ एक ओर राजभाषा के प्रचार प्रसार में सहायक सिद्ध होती है वहीं दूसरी ओर रेलकर्मियों को कला एवं साहित्य से भी जोड़ती है |

इस अवसर पर वरिष्ठ मंडल परिचालन प्रबंधक श्री मन्नू प्रकाश दुबे ने फणीश्वर नाथ रेणु जी के जीवन और साहित्य के विभिन्न पहलुओं पर विस्तृत विवरण प्रस्तुत किया तत्पश्चात प्रो० राजेश गर्ग ने हिंदी साहित्यकार फणीश्वर नाथ रेणु के व्यक्तित्व एवं कृतित्व पर अपना ओजस्वी व्याख्यान प्रस्तुत किया |

इस अवसर पर अपर मंडल रेल प्रबंधक श्री अनुराग कुमार गुप्ता, वरिष्ठ मंडल कार्मिक अधिकारी श्री अभिषेक रंजन, वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक श्री नवीन दीक्षित, वरिष्ठ मंडल संकेत एवं दूरसंचार इंजीनियर श्री नीरज यादव, वरिष्ठ मंडल इंजीनियर श्री अतुल गुप्ता, वरिष्ठ मंडल सुरक्षा आयुक्त श्री अमरेश कुमार तथा मंडल के अन्य अधिकारी गण उपस्थित रहे | अंत में वरिष्ठ राजभाषा अधिकारी श्री केशव त्रिपाठी ने सभी का धन्यवाद ज्ञापित किया |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here