जिलाधिकारी की अध्यक्षता में पार्किंग एवं डी0जे0 संचालकों की बैठक सम्पन्न, डेसीबल मीटर साथ रखने के दिये निर्देश

0
448

आर के पाण्डेय की रिपोर्ट
प्रयागराज

जिलाधिकारी, प्रयागराज भानुचंद्र गोस्वामी की अध्यक्षता में संगम सभागार में पार्किंग की व्यवस्था के संदर्भ में बैठक की गयी, जिसमें नगर आयुक्त डाॅ0 उज्जवल कुमार, ए0डी0एम0 सिटी ए0के0 कनौजिया के साथ जनपद के गेस्ट हाउस एवं वैकंट हाल के संचालकगण मौजूद थे।
जिलाधिकारी ने सभी वैकेटहाल एवं गेस्टहाउस के संचालको को स्पष्ट तौर पर निर्देशित किया है कि वाहन पार्किंग में ही खड़ी कराये। सड़क या फुटपाथ पर कोई वाहन की पार्किंग नहीं की जायेगी तथा जिस भी गेस्टहाउस या वैकेटहाल के संचालक के पास जितनी भी पार्किंग की व्यवस्था है, उतनी ही वाहन ले जाने की अनुमति दे नही तो कही पर भी पार्किंग की व्यवस्था अवश्य करा ले तथा प्रत्येंक गेस्ट हाउस के मालिकों को ये बताया  गया है कि गेट पर साइनेज आदि की व्यवस्था सुनिश्चित की जाय तथा बारात जहां से उठानी है उसकी एक निश्चित दूरी तय करे ताकि सड़क पर जाम की स्थिति उत्पन्न न हो तथा बारात जहां से भी उठानी है उसके समय को रेगुलेट करना है, समय, दूरी तथा संख्या आदि पर विशेष ध्यान दिया जाय।
सड़क पर जाम की स्थिति उत्पन्न न हो, इसके लिए प्रत्येक गेस्ट हाउस मालिक या होटल मालिक कम से कम 10 की संख्या में सिक्योरटी गार्ड की व्यवस्था अवश्य करें, जो कि यातायात को सुचारू रूप से संचालन सुनिश्चित करेंगे तथा जिस भी गेस्ट हाउस या वैंकेट हाल का पंजीकरण अभी नहीं हुआ है, वे पंजीकरण अवश्य करा ले। शहर में एक सी व्यवस्था दिखनी चाहिए तथा जिलाधिकारी ने बताया कि किसी भी दशा में सड़क के किनारे पर होर्डिंग्स, पोस्टर, बैनर नहीं लगने चाहिए। उन्होंने बताया कि अभी से तैयारियां शुरू कर दे ताकि अगले सीजन तक उसको लागू किया जा सके।
जिलाधिकारी ने डी0जे0, लाईट एवं बैण्ड बाजा वालो के साथ बैठक की। बैठक के दौरान उन्होंने बताया कि 10 बजे रात्रि तक ही डी0जे0 बजेगा। उसके बाद किसी भी दशा में नहीं बजना चाहिए, प्रथम बार चेतावनी के तौर पर चलान काटा जायेगा। दोबारा सीज कर दिया जायेगा तथा उन्होंने अपर जिलाधिकारी नगर को बताया कि इन लोगो को एक फार्मेट उपलब्ध करा दिया जाय और उसी फार्मेट पर सूचनायें आनी चाहिए। उन्होंने बताया कि रजिस्टर्ड संस्था द्वारा ही सुरक्षा गार्ड की व्यवस्था करें। किसी भी दशा में सरकारी सुरक्षा गार्ड नहीं लगाये जायेंगे। उन्होंने मा0 उच्च न्यायालय का जिक्र करते हुए बताया कि जिला प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन को ये सख्त निर्देश दिये गये है कि 10ः00 बजे के बाद कोई भी डी0जे0 आदि नहीं बजेगा, अगर कहीं पर भी ये शिकायत मिली तो सीधे सीज कराया जायेगा। उन्होंने सभी डी0जे0 संचालकों को बताया कि डेसीवल मीटर जरूर खरीद ले। मा0 उच्चतम न्यायालय के आदेशानुसार जो मानक है, उतना ही स्पीकर, हार्न आदि का प्रयोग करेंगे। सड़क पर जो भी डी0जे0 बजेगा उसको व्यवस्थित करने के लिए जो भी पार्टी है, उसका डिटेल बताना पड़ेगा तथा उसी अनुसार उसकी पर्चीया छपवा ले तथा उन्होंने बताया कि अनुमति केवल मजिस्टेªट के द्वारा दी गयी ही मान्य होगी। पुलिस द्वारा अनुमति मान्य नही होगा। उन्होंने बताया कि रोड लाइट को लेकर नाबालिक बालक दिखते है वे नहीं दिखने चाहिए। नहीं नहीं तो चाइल्ड एक्ट के तहत कार्यवाही सुनिश्चित की जायेगी। उन्होंने बताया कि किसी भी दशा में सड़क पर सड़क की पटरी एवं फुटपाथ पर कोई भी डी0जे0 की गाड़ियां खड़ी नहीं होगी। अगर कोई खड़ी कर रहा है तो वे 03 दिन के अन्दर अपनी पार्किंग की व्यवस्था कर लें, नही ंतो सीज कर दी जायेगी तथा उन्होंने बताया कि 40 से 45 डेसीवल बजना है और हास्पिटलों के आस-पास 50 मीटर पहले ही बन्द कर दे और 50 मी0 क्रास करने के बाद ही बजाना चालू करें, अगली बैठक से पहले डेसीवल मीटर जरूर खरीद लें। उन्होंने बताया कि पूरी सड़क को ब्लाक करके नहीं चलेंगे, केवल एक लेन का प्रयोग करेंगे, ताकि यातायात बाधित न हो, कुछ डी0जे0 वालों ने हाइड्रोलिक डी0जे0 का जिक्र करते हुए बताया कि उसमें साउण्ड बहुत तेज होती है और वे फिक्स रहता है, उसपर जिलाधिकारी ने स्पष्ट तौर पर बताया कि हाइड्रोलिक डी0जे0 के साथ-साथ बरातघर भी सीज कर दी जायेंगी, जो तेज आवाज में बजाने की अनुमति देगा। उन्होंने अन्त में बताया कि जो भी निर्देश दिये गये है, उसका अनुपालन सुनिश्चित करें, इसमें किसी भी प्रकार की हीला-हवाली कतई बर्दाश्त नहीं की जायेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here