कांवरियों के बीच गुलाब व रक्षासूत्र से प्रेम का संकल्प-सरदार पतविंदर सिंह

0
530

आर के पाण्डेय की रिपोर्ट
प्रयागराज

समाजसेवी सरदार पतविंदर सिंह ने अपने सहयोगियों के साथ श्रावण मास के चौथे और आखिरी सोमवार को गंगा घाट में पहुंचकर कांवड़ में जल भरकर जा रहे कांवरियों को एम ए खान ने दोनों हाथों से बड़े प्रेम और श्रद्धा से गुलाब के फूल दिए और भारत माता की जय. हम सब एक हैं एक रहेंगे .गगनभेदी उद्घोष करते उन्होंने कहा कि आज ईद उल अजहा का दिन था और सावन का अंतिम सोमवार भी था एक तरफ मुस्लिम त्यौहार दूसरी तरफ बाबा भोलेनाथ के भक्तों का सावन का अंतिम सोमवार आज मैंने तय किया कि बकरीद तो 3 दिन होती है और कुर्बानी 3 दिन होती है तो मैंने आज अपने हिंदू भाइयों की आस्था ख्याल रखते हुए आज कुर्बानी नहीं कराई और कल कराने फैसला लिया आज सावन का अंतिम सोमवार है l वही समाजसेवी सरदार पतविंदर सिंह ने कांवरियों को रक्षा सूत्र बांधते हुए कहा कि रक्षाबंधन विश्व शांति एवं भाईचारे का पर्व है हमें कन्या भूण हत्या .दहेज .तलाक. भ्रष्टाचार, आतंकवाद, नक्सलवाद, अलगाववाद की हिंसा, नशा, सांप्रदायिकता. जातिवाद, अंधविश्वास, नारी अपमान व विश्व के बढ़ते तापमान से मुक्ति दिलानी है साथ ही विश्वबंधु, शांति, सुरक्षा मानव व प्राकृतिक के कल्याण हेतु रक्षा सूत्र बांधकर संकल्प लेते है। राष्ट्रीयता सद्भावना कार्यक्रम में मोहम्मद इश्तियाक. मामू. हरमन सिंह. दलजीत कौर.सत्यम .करण आलोक .अजीत .अनिता राज आदि लोगों ने सहभागिता की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here