माँ की खिदमात का बदला औलाद ता ज़िन्दगी अदा नहीं कर सकती (मौलाना जव्वाद हैदर)

0
528

आर के पाण्डेय की रिपोर्ट
प्रयागराज

ऐग्रीकल्चर डीम्ड विश्वविद्धाल्य के प्रोफेसर सै०हसनैन मज़हर की माँ कनीज़ आबिद के चालिसवें पर आयोजित मजलिस को मौलाना जव्वाद हैदर जव्वादी ने खिताब करते हुए माँ की अज़मत का बखान करते हुए कहा की माँ की अज़मत वह है की उसने अपने बच्चे की परवरिश की खातिर जो क़ुरबानी दे कर उसका पालन पोषण किया उसका बदला औलाद चाहे भी तो ता ज़िन्दगी अदा नहीं कर सकती।मौलाना ने दहेज जैसी कुरीति पर भी कटाक्ष करते हुए कहा की अगर इसलाम के क़वानीन पर लड़कियों के वालिदैन अमल करना शुरु कर दें तो आज जिस दहेज रुपी दानव से हमारे यहाँ लड़कियाँ बली चढ़ती हैं वह न चढ़े और दामाद खुद दहेज देकर शादी रचाए जो इसलामी क़ानून के हिसाब से होगा।मजलिस मे मौलाना ने मौजूदा हालात पर कई कुरीतियों पर अपना बयान देते हुए कहा आज ज़ेनाकारी करने वाले के लिए संसद तक मे गूंज हो रही है के बलात्कारी को फाँसी दो जो इसलाम पहले से ही कहता चला आ रहा है।मजलिस से पहले रेयाज़ मिर्ज़ा व शूजा मिर्ज़ा ने ग़मगीन मर्सिया ख्वानी के ज़रीये वाक़ेयाते करबला का ज़िक्र किया।मजलिस की शुरुआत तेलावते कलाम पाक से हुई।मजलिस में मौलाना सग़ीर हसन खाँ,मुखतार हुसैन रिज़वी,कौसर अस्करी,शमशीर हैदर,अन्जुम रिज़वी,रिज़वान जव्वादी,सै०मो०अस्करी,हसनैन अज़हर,मक़सूद रिज़वी,खुशनूद रिज़वी,आसिफ रिज़वी,अली रज़ा रिज़वी,समीर कौसर,मिर्ज़ा अज़ादार हुसैन आदि प्रमुख रुप से शामिल रहे।
वहीं महिलाओं की मजलिस को मोहतरमा शबीह फात्मा जव्वादी ने खिताब करते हुए परदा, परेहज़गारी,औरतों के हूक़ूक़,आम ज़िन्दगी मे पड़ने वाले मसले मसायल पर अपनी तक़रीर मे खवातीन को तालीमी दर्स देते हुए एहलेबैत ए अतहार की ज़िन्दगी को सामने रख कर ज़िन्दगी बसर करने की हिदायत दी।मजलिस मे ज़ाकिराह शबीह ने इमाम रज़ा (अ०स०)की ज़िन्दगी पर भी रौशनी डाली कहा अय्यामे इमाम रज़ा के दिन क़रीब हैं और हम सब को उन्की ज़िन्दगी और सवाना ए हयात पर ग़ौरो फिक्र करने की ज़रुरत है।इस मौक़े पर बड़ी संख्या मे उपस्थित महिलाओं ने मरहूमाँ की मग़फीरत को दूआ की वहीं प्रोफेसर मज़हर को शोक प्रकट करने ऐग्रीकल्चर डीम्ड विश्शविद्धाल्य के प्रोफेसर थॉमस ,प्रोफेसर बोस,डॉ डेविड,लेकचर्र मतलूब व डॉ राजेश सिंह भी सांत्वना देने पहुँचे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here