श्रावणमास को सकुशल सम्पन्न कराने के लिए जिलाधिकारी की अध्यक्षता में बैठक सम्पन्न, सभी प्रमुख घाटो में साफ-सफाई, प्रकाश की व्यवस्था करने के जिलाधिकारी ने दिये निर्देश

0
2772

आर के पाण्डेय की रिपोर्ट
प्रयागराज

जिलाधिकारी भानुचंद्र गोस्वामी की अध्यक्षता में संगम सभागार में श्रावणमास की तैयारियों सम्बन्धी बैठक की गयी, जिसमें वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक- अतुल शर्मा, मुख्य विकास अधिकारी-अरविंद सिंह, ए0डी0एम0 सिटी, एडीएम प्रशासन सहित जनपद के समस्त एसडीएम एवं क्षेत्राधिकारी मौजूद थे। श्रावणमास 17 जुलाई से प्रारम्भ होकर 15 अगस्त 2019 तक चलेगा।
जिलाधिकारी ने कहा कि कावरियों/श्रद्धालुओं द्वारा गंगा के पावन जल को लेकर शिव मन्दिरों पर जलाभिषेख किया जाता है। जिस पर जिलाधिकारी ने स्पष्ट रूप से निर्देशित किया कि सभी एसडीएम और क्षेत्राधिकारी जो भी मंदिर है, वहां पर साफ-सफाई की व्यवस्था सुनिश्चित की जाये तथा मुख्य पर्व के दिन किसी सक्षम अधिकारी को उस मन्दिर पर तैनात किया जाये। सहा0 अभियन्ता निर्माण खण्ड-3 को निर्देशित किया गा है कि शास्त्री ब्रिज के नीचे तथा घाटो पर साफ-सफाई की व्यवस्था सुनिश्चित किया जाये। अधिशाषी अभियन्ता निर्माण खण्ड-03 बिना बताये अनुपस्थित होने पर स्पष्टीकरण काल किया गया। दशाश्वमेध घाट एवं संगमतट पर बैरिकेटिंग कराने एवं प्रकाश की व्यवस्था कराये जाने का निर्देश दिया।
जिलाधिकारी ने सभी सम्बन्धित विभागों के प्रमुख अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि सभी विभाग अपना काम समय से पूरा करा लेंगे। रोड एवं घाटो में साफ-सफाई की व्यवस्था दुरूस्त रखा जाय। सभी घाटो की साफ-सफाई कराने की जिम्मेदारी नगर निगम की शहर की होंगी। उन्होंने नगर निगम के अधिकारियों को निर्देशित किया कि साफ-सफाई की व्यवस्था दुरूस्त की जाये कहीं से भी गन्दगी की शिकायत नहीं मिलनी चाहिए। सभी कावंडमार्गों की साफ-सफाई की व्यवस्था थानावार, ब्लाकवार, राजस्वग्राम पंचायतवार की जानी चाहिए। आने वाले कांवरियों को यह महसूस होना चाहिए कि प्रशासन के द्वारा स्वच्छता के लिए उचित व्यवस्था का प्रबन्ध किया गया है। जिलाधिकारी ने विद्युत विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया कि घाटो पर विद्युत की व्यवस्था दुरूस्त होनी चाहिए। जिन घाटों पर जर्जर एवं लटकते हुए तार हो, उन्हंें तत्काल दुरूस्त कराया जाय। साथ ही प्रमुख मार्गों का भी निरीक्षण कर लेने के निर्देश दिये। कहा कि जिन मार्गों पर जर्जरतार एवं ढीले तार हो उन्हें तत्काल बदल दिया जाये। साथ ही ये भी चेक कर लिया जाये कि बारिश के मौसम में किसी पेड़ एवं बिजली के खम्भों पर कहीं करेंट तो नहीं आ रहा है। पूरे श्रावण मास के दौरान बिजली विभाग के कर्मी 8-8 घण्टे की ड्यूटी पर रहेंगे। घाटों पर प्रकाश की उचित व्यवस्था हो, इसकी व्यवस्था करने के जिलाधिकारी ने विद्युत विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये। 
जिलाधिकारी ने कहा कि श्रावणमास के दौरान जिन मंदिरों का विशेष महत्व है, उनको चिन्हित कर वहां पर साफ-सफाई, प्रकाश की पर्याप्त व्यवस्था करने के निर्देश दिये। लेखपालों एवं कानूनगों की ड्यूटी श्रावणमास के प्रमुख तिथियों में अवश्य लगाने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने अधिकारियों को निर्देशित किया कि जिन महत्वपूर्ण मार्गों से कांवडयात्री गुजरते है उसकी एक सूची बनाकर अगली बैठक में प्रस्तुत की जाये। अपने-अपने क्षेत्रों के प्रमुख शिव मंदिरों की सूची भी बनाने के जिलाधिकारी ने निर्देश दिये। श्रावणमाह में बड़ा कार्यक्रम होता है, इन कार्यक्रमों में सामुदायिक सौहार्द बना रहे, इसके लिए दोनों पक्षों को आमने-सामने बैठाकर बातचीत के माध्यम से समुचित समाधान कर लिया जाये। सावनमास के दौरान ही पड़ने वाले बकरीद के त्योहार को देखते हुए जिलाधिकारी ने कहा कि ऐसे क्षेत्रों को चिन्हित कर लिया जाये, जहां से कावंडयात्रा निकलेगी। जिससे कि इन क्षेत्रों में किसी भी प्रकार की सामुदायिक सौहार्द न बिगड़ने पाये। साथ ही पीस कमेटी की बैठक स्थानीय स्तर पर कराने के निर्देश जिलाधिकारी ने दिये। जिलाधिकारी ने सभी थानों में पर्याप्त मात्रा में फोर्स की व्यवस्था करने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने सुरक्षा के दृष्टिगत विगत माह में जिन-जिन जगहों पर बैरिकेटिंग की गयी थी कि जानकारी ली साथ ही बैरिकेटिंग करने के लिए सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देशित किया। साथ ही जिलाधिकारी ने निर्देश दिये कि कावंडयात्रा के दौरान कावंरियों द्वारा लाये गये वाहनों के पार्किंग की उचित व्यवस्था की जाये। जिलाधिकारी ने बैठक में कहा कि प्लास्टिक का प्रयोग न हो, इसके लिए विशेष ध्यान दिया जाये। कावंडयात्रा के दौरान जिन जगहों पर भण्डारें का आयोजन किया जाना हो, वहां पर डस्टबिन की व्यवस्था की जाये। प्रयागराज-बनारस मार्ग पर कावरियों के लिए सुरक्षा की विशेष व्यवस्था करने के निर्देश जिलाधिकारी ने दिये।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here