गुरू पूर्णिमा की तैयारिया आश्रमों में शुरू, ओम नम: शिवाय की ओर से गुरू पूजन, सत्संग के बाद होगा विशाल भण्डारा, किन्नर अखाडा की प्रयागपीठाधीश्वर टीना भी करेगी विधि विधान से गुरूपूजन

0
415

आर के पाण्डेय की रिपोर्ट
प्रयागराज

आश्रम और संस्थाओ की ओर से गुरु पूर्णिमा महोत्सव 16 जुलाई पर होने गुरू पूजन और विशाल भण्डारे की तैयारिया शुरू हो गयी है। गुरू पूजन में बडी संख्या में श्रद्धालु शामिल होकर गुरू का विधि विधान से पूजन करके आशिर्वाद प्राप्त करेगे। सबसे बडा कार्यक्रम ओम नम: शिवाय संस्था की ओर से ईसीसी के पीछे गऊघाट पर बने शिविर में 16 जुलाई को सुबह आठ बजे भगवान का विधि विधान से पूजन होगा। उसके बाद पूज्य गुरूदेव का पूछन देश के कोने – कोने से आये हुए हजारो श्रद्धालु और स्वयंसेवक करेगे। उसके बाद गुरूदेव के सानिध्य में सत्संग होगा। अंत में भण्डारे के साथ कार्यक्रम संपन्न होगा। संस्था के शांतनु सिंह ने बताया कि गुरूपूजन कार्यक्रम में बडी संख्या में देश के कोने – कोने से श्रद्धालु सपरिवार शामिल होगे। गुरू पूजन, सत्संग के बाद प्रसाद ग्रहण करेगे। कहा कि इस दौरान माघ मेले में चलने वाले विशाल अन्न क्षेत्र की तैयारियों पर श्रद्धालुओं के साथ विस्तार से चर्चा होगी। किन्नर अखाडा प्रयागराज की पीठाधीश्वर टीना मा ने बताया कि गुरू पूर्णिमा को वह लोग अपने गुरू का बैरहना स्थित आवास पर विधि विधान से पूजन-अर्चन करते हुए भण्डारा करेगे। कहा कि अगर लोगों को गुरू और शिष्य परंपरा को देखना है तो किन्नरों में देख सकता है। जहा गुरू का पूरा सम्मान होता है और शिष्य सभी परंपराओ का निर्वहन करते है। श्री बाघम्बरी मठ में भी गुरू पूजन और भण्डारा कार्यक्रम होगा जिसमें बडी संख्या में लोग प्रसाद ग्रहण करेगे। इसी प्रकार से जगदगुरू स्वामी वासुदेवानंद सरस्वती महराज के अलोपीबाग स्थित आश्रम में भी गुरू पूजन और भण्डारा कार्यक्रम होगा। झूसी स्थित स्वामी हरिचैतन्य ब्रह्मचारी महराज के कैवल्य धाम आश्रम में गुरू पूजन और भण्डारा होगा। क्रियायोग आश्रम और अनुसंधान संस्थान में गुरू पूजन कार्यक्रम सुबह आठ बजे से शुरू होगा। ज्ञानमाता डा राधा सत्यम ने बताया कि कार्यक्रम में बडी संख्या में विदेशी, क्षेत्रीय लोग और आश्रम के लोग शामिल होगे। श्री रामानंदीय वैष्णव आश्रम समुद्रकूप के स्वामी विपिन बिहारी महराज ने बताया कि गुरू पूर्णिमा महोत्सव आश्रम में धूमधाम से मनाया जायेगा। गुरू पूजन के बाद विशाल भण्डारा होगा जिसमें बडी संख्या में लोग प्रसाद ग्रहण करेगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here