बारा पॉवर प्लांट की वादा खिलाफी को लेकर उप जिलाधिकारी बारा को दिया ज्ञापन

0
536

आर के पाण्डेय की रिपोर्ट
शंकरगढ़

क्षेत्र के मिश्रपुरवा में लगा 1980 मेगा वाट का थर्मल पावर प्लांट के अधिकारियों द्वारा किसानों को किये गए वादे को अभी तक न पूरा करने के खिलाफ भारतीय किसान यूनियन ने उपजिलाधिकारी बारा संदीप वर्मा को एक ज्ञापन देकर किये गए वादे को पूरा कराने की मांग की है।
ज्ञात हो कि क्षेत्र के मिश्रपुरवा में जेपी ग्रुप का 1980 मेगावाट का थर्मल पावर प्लांट लगा है। इस प्लांट के लिए 2007 कपारी, बेमरा बेरुई, जोरवट, खान सेमरा आदि गांवों के 817 किसानों की जमीनों का अधिग्रहण हुआ था।यूं तो विभिन्न मुद्दों को लेकर उक्त कंपनी और किसानों की लड़ाई बर्षों से चली आ रही है लेकिन इस बार किसान आर पार की लड़ाई में दिख रहे हैं। पहले भी क्षेत्र के किसान मजदूर उक्त प्लांट के खिलाफ लड़ते रहे हैं लेकिन नौकरशाही की प्रबलता के कारण हर बार किसानों की आवाज को दबाया गया। किसानों का आरोप है कि अधिग्रहण तथा निर्माण के समय प्रभावित गांव के किसानों से जो वादा किया गया था वो आज तक पूरा नही हुआ। यदि अब भी अधिकारी नही चेते तो अब हम सब बड़ा आंदोलन करेंगे। बारा पावर प्लांट के अधिकारियों की वादा खिलाफी से क्षेत्र के किसानों में आक्रोश है। लोगों का कहना है कि 817 किसानों में से लगभग 200 किसानों या उनके पाल्यों को दैनिक वेतन पर रखा गया है। खास बात यह है कि इन मजदूरों को छः दिन काम देकर वक दिन की छुट्टी दे दी जाती है और छुट्टी के दिन का पैसा नहीं दिया जाता। किसानों ने उपजिलाधिकारी बारा को ज्ञापन देकर पावर प्लांट बारा के अधिकारियों द्वारा किये गए विभिन्न वादों को जल्द से जल्द पूर्ण कराने की मांग की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here