परमार्थ निकेतन में 5 वें राष्ट्रीय सम्मेलन ’यूथ इन एक्शन’ में राष्ट्रीय सहसंगठन महामंत्री शिव प्रकाश ने किया सहभाग

0
494

आर के पाण्डेय की विशेष रिपोर्ट
ऋषिकेश

परमार्थ निकेतन में ’’यूथ इन एक्शन’’ दो दिवसीय कार्यशाला में आज परमार्थ निकेतन के परमाध्यक्ष स्वामी चिदानन्द सरस्वती जी महाराज, राष्ट्रीय सहसंगठन महामंत्री श्री शिव प्रकाश जी और अनेक क्षेत्रों के विशेषज्ञ युवाओं ने सहभाग किया।
इस कार्यशाला में कई विशेषज्ञ धर्म, शिक्षा, समाज और राजनीति आदि के विषय में छात्रों की समझ को बढ़ाने हेतु उन्हे प्रेरित कर रहे हैं। इस अधिवेशन में भारतीय राष्ट्रवाद और विश्व बन्धुत्व, विधायिका का कार्यपालिका पर नियंत्रण और बदलता स्वरूप, भारतीय समाज का धर्म और इसकी राजनीति, यूथ इन एक्शन-संलग्नता, क्रियाशीलता, उद्यमिता से उपजती आशा विषयों पर छात्रों को जागरूक किया जा रहा है।
’यूथ इन एक्शन’ सम्मेलन के दूसरे दिन के सत्र का उद्घाटन परमार्थ निकेतन के परमाध्यक्ष स्वामी चिदानन्द सरस्वती जी महाराज, राष्ट्रीय सहसंगठन महामंत्री श्री शिव प्रकाश जी, अनेक भाजपा कार्यकर्ताओं एवं विशिष्ट अतिथियों ने दीप प्रज्जवलित कर शुभारम्भ किया।

स्वामी चिदानन्द सरस्वती जी ने युवाओं का आह्वान करते हुये कहा कि अपने अन्दर कर्तव्य पालन के भाव को जाग्रत करें और अपने विचारों, प्रतिभा और लगन से उस ओर कार्य करना आरम्भ कर दें, इससे आपको अपने भीतर अद्भुत शक्तियों का अहसास होगा। उन्होने कहा कि युवा अपने हुनर को पहचाने और उसे निखारे और फिर उस ओर आत्मविश्वास के साथ आगे बढ़े। अपनी पारिवारिक जिम्मेदारियों को पूरा करते हुये समाज और देश की उन्नति में अपना योगदान प्रदान करें।
युवाओं को संदेश देते हुये स्वामी जी महाराज ने कहा कि अपने भीतर आत्मविश्वास को विकसित कर अपने रूचि के रास्ते पर कदम बढ़ायें, अपने हुनर और स्किल को बढ़ाये और आगे बढ़े। अहंकार और झूठ को अपने अन्दर न पनपने दे, यह विष बेल के समान है जो व्यक्ति को धीरे-धीरे विकृत कर देती है। सहयोग और सहभागिता के साथ जीवन में आगे बढें।
यूथ इन एक्शन संस्था का जन्म लखनऊ में 2014 को हुआ। इसमें भारत के अनेक प्रमुख शिक्षण संस्थान आई आई टी, आई आई एम, मेडिकल, एनआईटी जैसे अनेक संस्थानों के छात्रों और प्रोफेसरों के द्वारा इस संस्था का गठन हुआ। छात्रों की सामाजिक और राजनीतिक समझ बढ़ाने के लिये तथा अपने दायित्वों की समझ पैदा करने के लिये तथा हमें क्या करना चाहिये इस हेतु युवाओं के द्वारा बनाया गया यह संगठन है। अब तक इस संस्था ने 100 से अधिक कार्यक्रम आयोजित किये। छात्रों की समझ बढ़ाने के लिये, कर्तव्य बोध के लिये हमने धर्म, शिक्षा, समाज और राजनीति चार विषय रखे है। इस हेतु संस्था प्रतिवर्ष कार्यशालाओं का आयोजन करते है। इस बार बहुत सौभाग्य की बात है कि पूज्य स्वामी चिदानन्द सरस्वती जी महाराज के पावन सान्निध्य में हमने यूथ इन एक्शन कार्यशाला का आयोजन किया। इसमें भारत के 8 राज्यों के 250 से अधिक युवाओं ने सहभाग किया। दो दिवसीय कार्यशाला में चार सत्र होंगे।
यूथ इन एक्शन कार्यशाला के उद्घाटन अवसर पर स्वामी चिदानन्द सारस्वती जी महाराज ने राष्ट्रीय सहसंगठन महामंत्री श्री शिव प्रकाश जी को पर्यावरण का प्रतीक रूद्राक्ष का पौधा एंव रूद्राक्ष की माला भेंट की। सभी ने मिलकर विश्व स्तर पर स्वच्छ जल की आपूर्ति हेतु वाटर ब्लेसिंग सेरेमनी सम्पन्न की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here