रेप पीड़ित को धमकाकर जांच अधिकारी ने मनचाहा दिलवाया बयान

0
649

पर्दाफ़ाश न्यूज़ टीम
प्रयागराज

कातवाली क्षेत्र हंडिया की एक नाबालिग युवती के साथ बीते पांच महीने पहले क्षेत्र के ही एक युवक ने ट्यूबेल मे ले जाकर बलात्कार किया। घटना उस समय घटी जब युवती उसके खेत मे मिर्च तोड़ने गई थी। पंाच महीने बाद पेट बढ़ने पर किशोरी से उसके परिजनो ने पूछा तो रोकर उसने उसने सारे मामले की जानकारी दी। युवती को धमकाया गया था कि यदि परिवार को बताया तो पूरे परिवार को जान से मार देगा। आरोपी ने इलाज कराने के बहाने एक निजि अस्पताल मे ले जाकर उसका गर्भपात कराया था। भ्रूण को लीलापुर गंगा घाट पर दफना दिया गया था। पीड़ित की तहरीर पर हंडिया पुलिस ने मुकद्मा दर्ज कर कार्यवाही श्ुरू कर दी थी। जांच अधिकारी हंडिया क्षेत्राधिकारी माजिद अबसार थे।किशाेरी ने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक से मिलकर प्रार्थनापत्र देकर यह बताया कि जब मै अस्पताल मे भर्ती थी तो जांच अधिकारी हमे अस्पताल से थाने ले गये । जहां उन्हेाने धमकाते हुए कहा कि जो मै कहू वही बयान देना । तुम्हारे माता पिता हमारे कब्जे मे है। यदि जैसा मै चाहता हू वैसा तुम नही करोगी। तो तुम्हारे माता पिता को मै जेल भेज दूगा। डर के मारे मैने क्षेत्राधिकारी द्धारा जो कहा गया वही बयान मैने कोर्ट मे दिया। पीड़ित ने जांच अधिकारी बदलने की मांग करने के साथ क्षेत्राधिकारी हंडिया के उपर कार्यवाही करने की मांग की है।

बलात्कार पीड़ित के चाचा ने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक से बताया कि बीते आठ जून को कुछ दबंग लोग हमारे घर सुलह समझौता कराने आये थे। हंडिया क्षेत्राधिकारी को फोन पर मामले की जानकारी दी गई तो उन्हेाने कहा कि जो समझौता कराने गये है उनकी बात मान लो यदि कोई वकील तुम्हारे घर जाता है। तो उसको मारो पीटो उसकी गाड़ी भी तोड़ दो। उसके बाद हमारे पास आओ। मुकद्मा लिखकर पैरवी कर रहे वकीलो का जेल भेज दूगा।