खबर का असर: प्रधानाचार्य पुत्र ने लिखित में अपराध स्वीकारा, लेकिन कार्यवाही से बोर्ड ने किया किनारा, तीनो विद्यालय विधिक रूप से जवाब देने में रहे असफल

0
1605

पर्दाफ़ाश न्यूज़ टीम
प्रयागराज

प्रयागराज शहर के चर्चित केस प्रधानाचार्य पुत्र, तीन स्कूल व दो बोर्ड मामले में मीडिया में खबरे प्रकाशित होने के बाद बोर्ड द्वारा नोटिस जारी करने पर आरोपी छात्र ने लिखित रूप से अपना अपराध स्वीकार कर लिया है परन्तु बोर्ड ने अभी तक कोई भी विधिक कार्यवाही नही की है।
जानकारी के अनुसार पूजा चन्दोला महर्षि विद्या मंदिर दूर्वाणी नगर, ए0डी0ए0 कालोनी, नैनी, प्रयागराज की प्रधानाचार्या है उन्होंने इसी स्कूल में 2007 से 2009 तक बिना मान्यता प्राप्त किये इंटर की अवैध कक्षाएं संचालित की व इसमें अपने पुत्र कार्तिकेय चन्दोला को भी रेगुलर इंटर में पढ़ाया परन्तु अपनी सुविधा के लिए उन्होंने अपने पुत्र कार्तिकेय चन्दोला को 2009 में ही आदर्श शिक्षा निकेतन इंटर कालेज से यूपी बोर्ड की रेगुलर इंटर की परीक्षा पास कराई तो वही इसी 2009 में ही उसे सीबीएसई बोर्ड के महर्षि विद्या मंदिर, ओल्ड मुगल रोड, नियर डिस्ट्रिक्ट जेल, फतेहपुर से भी रेगुलर इंटर पास करा दिया था जिसकी शिकायत आर के पाण्डेय एडवोकेट हाई कोर्ट द्वारा किये जाने व मीडिया द्वारा इसकी खबर प्रकाशित किये जाने के बाद बोर्ड द्वारा संज्ञान लेकर नोटिस जारी करने पर आरोपी छात्र ने सीबीएसई बोर्ड के रीजनल आफिस को लिखे पत्र में अपना अपराध स्वीकार कर लिया है परन्तु अभी तक उपरोक्त तीनो विद्यालय बोर्ड के समक्ष विधिक रूप से अपना पक्ष रखने में असफल रहे हैं। सीबीएसई बोर्ड ने अपने पत्र CBSE/RO/ All/GC-615/2019, दिनांक 23 मई 2019 के द्वारा शिकायतकर्ता को लिखित रूप से जवाब दिया है। उधर इस प्रकरण में शिकायतकर्ता का कहना है कि जब आरोपी छात्र ने अपना जुर्म स्वीकार कर लिया है तो उस पर विधिक कार्यवाही भी की जानी चाहिए अन्यथा वह कोर्ट में मामले को ले जाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here