राशन वितरण प्रणाली में धांधली प्रकरण में कोटेदार के खिलाफ दर्ज कराई गई प्राथमिकी

0
445

आर के पाण्डेय की रिपोर्ट
मेजारोड (प्रयागराज)

प्रदेश के कोटेदारों द्वारा राशन और किरासन में आए दिन धांधली की खबर सामने आती है।इलाकेे के कोटहा ग्राम पंचायत के कोटेदार द्वारा राशन वितरण में की गई अनियमितता को लेकर पूर्ति निरीक्षक ने मेजा थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई है।आरोप है कि कोटेदार मनमाने ढंग से वितरण दिखाकर महीनों से कालाबाजारी कर रहा है।
विकासखंड उरुवा के ग्राम पंचायत कोटहा की सरकारी सस्ते गल्ले की दुकान को लेकर बार-बार शिकायतें आ रही थी। तहसील के उप जिलाधिकारी और पूर्ति विभाग ने प्राप्त शिकायतों के आधार पर जांच टीम गठित कर इसका सत्यापन कराया। जिसमें कोटेदार द्वारा कई महीने से मनमाने ढंग से रजिस्टर पर वितरण दिखाकर गरीबों के हक को खुले बाजार में बेचकर मालामाल हो रहा है।इस तथ्य की पुष्टि होने के बाद पूर्ति निरीक्षक मेजा ने बीते 20 मई को मेजा थाने में कोटेदार भोला नाथ प्रजापति के खिलाफ विभिन्न धाराओं में प्राथमिकी दर्ज कराई है।प्रशासन ने गरीबों के राशन की लूट करने वाले कोटेदार के खिलाफ आईपीसी की धारा 3/7 के तहत कार्रवाई किए जाने की संस्तुति की है।
बता दें कि पंचायत के कई कार्ड धारकों ने वितरण को लेकर तहसील के पूर्ति विभाग में शिकायत दर्ज कराई थी।इसके पूर्व इस मामले में उप जिला अधिकारी को भी लिखित रूप में अवगत कराया गया था। बार-बार शिकायतों पर गठित की गई जांच टीम ने मौके पर शिकायतकर्ताओं से वितरण का पूरा ब्यौरा इकट्ठा किया।जिसमें कई चौकाने वाले सच सामने आए। जैसे कि ईपोस मशीन पर किसी भी कार्डधारक का अंगूठा निशान नहीं लिया जा रहा है।जबकि रजिस्टर में फर्जी रूप से हस्ताक्षर बनाकर विभाग को गुमराह किया जा रहा है।यह सिलसिला बीते चार पांच महीने से चल रहा है।जिसमें कई लाख रुपए के राशन की कालाबाजारी किए जाने का आरोप है। कोतवाल मेजा ने पूर्ति निरीक्षक के तहरीर पर प्राथमिकी दर्ज करके कार्रवाई के लिए मेजारोड चौकी प्रभारी को कार्रवाई की जिम्मेदारी दी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here