एस एस बी ने पकड़ी 1965600 रुपये की ब्राजील काली मिर्च, कस्टम को किया सुपुर्द

0
786

पर्दाफ़ाश न्यूज़ टीम
शोहरतगढ़, सिद्धार्थनगर

बीते सोमवार को एस एस बी की टीम ने इंडोनेपाल बॉर्डर के खुली सीमा के रास्ते भारत लाई जा रही ब्राजील की काली मिर्च के साथ एक तस्कर को गिरफ्तार कर लिया।

उक्त की जनकारी देते हुए खुनुवां एसएसबी 43 वीं वाहिनी के इंस्पेक्टर अमरलाल सोनकरिया ने बताया कि मुखबिर की सूचना पर जवानों ने सोमवार की देर रात करीब दो बजे अठकोनिया गांव के मोड़ पर नाकाबंदी कर घात लगाए बैठे हुए थे। इसी बीच नेपाल सीमा की ओर से भारत की खुली सीमा के रास्ते भादमुस्तहकम गांव के पश्चिम बंधा से होते हुए एक डीसीएम गाड़ी बॉर्डर रोड होते हुए अठकोनिया गांव के मोड़ पर आती हुई दिखाई दी। नाका लगाए एसएसबी के जवानों ने तत्परता दिखाते हुए घेराबंदी कर गाड़ी रुकवाया। एसएसबी को देख वाहन छोड़कर चालक भाग निकला। माल लदे डीसीएम के पीछे तस्कर भी मोटरसाइकिल से आ रहा था। जवानों ने उसे भी रोक कर अपने कब्जे में लेकर बीओपी पर ले आए। पूछताछ में पकड़े गए आरोपी तस्कर ने अपना नाम मनीष कुमार गुप्ता उर्फ गोपाल निवासी आदर्श टीचर कालोनी गड़ाकुल शोहरतगढ़ बताया। बताया जाता है कि तस्करी की दुनिया में गोपाल के नाम से मशहूर है जो काफी समय से तस्करी के बडे़ कारोबार में लिप्त था। डीसीएम गाड़ी की तलाशी ली गई तो उसमें 117 बोरी ब्राजील की काली मिर्च बरामद हुई जिसका वजन 2808 किलोग्राम हुआ। इसकी कीमत 700 रुपये प्रति किलोग्राम की दर से कुल 1965600 बताई गई। जिस वाहन में काली मिर्च लदी थी उसकी कीमत करीब 6 लाख व बरामद मोटरसाइकिल की कीमत 40000 हजार रुपये आंकी गई। कुल कीमत 26 लाख 56 सौ रुपये आंकी गई। बरामद माल व मुल्जिम सहित मोटरसाइकिल व डीसीएम को खुनुवां कस्टम को सुपुर्द कर दिया गया। इस दौरान मु आ. नीतीश कुमार, सा.आ. देवेंद्र कुमार, सा. चालक सत्येंद्र कुमार मौजूद रहे।