खबर का असर- प्रधानाचार्य पुत्र के एक ही समय मे रेगुलर रूप में एक साथ तीन विद्यालयों में अध्ययन मामले में तीनों विद्यालयों को नोटिस जारी

0
623

आर के पाण्डेय की रिपोर्ट
प्रयागराज

प्रयागराज जनपद के प्रधानाचार्य पुत्र के एक ही समय मे रेगुलर रूप में एक साथ तीन विद्यालयों में अध्ययन व दो बोर्ड से 12 की परीक्षा उत्तीर्ण करने व प्रधानाचार्य के अपने पद के दुरुपयोग मामले में सीबीएसई बोर्ड ने तीनों विद्यालयों के प्रधानाचार्यों को नोटिस जारी किया है।
जानकारी के अनुसार पूजा चन्दोला पत्नी महेश चंद्र चन्दोला लगभग दो दशक से महर्षि विद्या मंदिर, ए0डी0ए0 कालोनी, दूर्वाणी नगर, नैनी, प्रयागराज में प्रधानाचार्य पद पर तैनात है व वर्तमान समय मे रिटायरमेंट के बावजूद पद पर काबिज हैं। आर के पाण्डेय एडवोकेट हाई कोर्ट इलाहाबाद ने साक्ष्यों के आधार पर सक्षम अधिकारियों से व आईजीआरएस पर शिकायत की है कि पूजा चन्दोला ने अपने प्रधानाचार्य पद का दुरुपयोग करके न सिर्फ अपने उपरोक्त विद्यालय में 2007 से 2009 तक इंटर की अवैध कक्षाएं संचालित की बल्कि उसमे अपने पुत्र समेत कुल 18 विद्यार्थियों का एडमिशन भी लिया जिन्हें 125 किमी दूर महर्षि विद्या मंदिर, ओल्ड मुगल रोड, फतेहपुर में 12वी की रेगुलर पंजीकृत दिखाकर परीक्षा भी दिलाई। बता दें कि इन्ही 18 में से एक स्वयं पूजा चन्दोला का बेटा कार्तिकेय चन्दोला भी था जोकि 2009 में ही 125 किमी के दायरे में रेगुलर तीन विद्यालय महर्षि विद्या मंदिर, नैनी, प्रयागराज, महर्षि विद्या मंदिर, फतेहपुर व आदर्श शिक्षा निकेतन, उत्तरी लोकपुर, नैनी, प्रयागराज में इंटर की पढ़ाई करते हुए सीबीएसई बोर्ड के महर्षि विद्या मंदिर, ओल्ड मुगल रोड, फतेहपुर व यूपी बोर्ड के आदर्श शिक्षा निकेतन, उत्तरी लोकपुर, नैनी, प्रयागराज से एक साथ 12 की परीक्षा उत्तीर्ण की। इस बावत 2010-11 में भी शिकायत की गई थी लेकिन प्रयागराज शहर में ही सीबीएसई बोर्ड का क्षेत्रीय कार्यालय व यूपी बोर्ड का मुख्यालय होने के बावजूद विगत 09 वर्ष में जानबूझकर कोई कार्यवाही नही की गई लेकिन इस बार की गई शिकायत व प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक व सोशल मीडिया में इसकी खबर वायरल हो जाने पर जांच कार्यवाही करते हए असिस्टेंट सेक्रेटरी (ग्रीवांस), सीबीएसई बोर्ड, क्षेत्रीय कार्यालय, प्रयागराज ने पत्रांक स0 CBSE/RO/ALLD/GC-615/2019/ दिनांक 08 मई 2019 जारी करके उपरोक्त तीनो विद्यालयों को 15 मई 2019 तक अपना पक्ष रखने का नोटिस जारी किया है जिसकी कॉपी शिकायतकर्ता को भी दी गई है। उधर शिकायतकर्ता आर के पाण्डेय एडवोकेट का कहना है कि वह इस प्रकरण में न्यायोचित कार्यवाही तक लड़ते रहेंगे भले ही उन्हें उच्च न्यायालय व सुप्रीम कोर्ट तक जाना पड़े।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here